पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नियमित छात्र इसी सत्र से ले सकते हैं एडमिशन:पीजी कॉलेज में भी पढ़ाया जाएगा एमए समाजशास्त्र, हिन्दी व एमएससी बॉटनी

जशपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के कॉलेजों में पढ़ रहे छात्र-छात्राें के लिए अच्छी खबर है। जिले के अग्रणी महाविद्यालय एनईएस पीजी में अब एमए समाजशास्त्र, एमए हिन्दी व एमएससी बॉटनी को उच्च शिक्षा विभाग से अनुमति मिल गई है। कॉलेज के प्राचार्य डॉ विजय रक्षित ने बताया कि इसी सत्र से छात्र-छात्राएं इन संकायों से स्नातकोत्तर के लिए नियमित छात्र के तौर पर दाखिला ले सकते हैं।

कॉलेज प्रबंधन द्वारा इन संकायों की नियमित कक्षाएं शुरू करने के लिए आवश्यक तैयारियां पूरी की जा रही है। अब तक कला संकाय के समाजशास्त्र, हिन्दी और विज्ञान संकाय के बॉटनी में सिर्फ स्नातक तक की सुविधा एनईएस पीजी कॉलेज में थी। कला में स्नातक करने वाले छात्रों को आगे चलकर एम के लिए इन राजनीति, भूगोल जैसे संकाय चुनने पड़ते हैं। जिनकी रूचि समाजशास्त्र में थी वे सिर्फ स्नातक तक इसकी पढ़ाई कर पा रहे थे। छात्रों को स्नातकोत्तर के लिए अधिक से अधिक विषयों का लाभ दिया जा सके इसके लिए कॉलेज प्रबंधन लगातार प्रयास कर रहा है। इसी क्रम में इन तीन विषयों में अब स्नातकोत्तर की सुविधा शहर के कॉलेज में शुरू हुई है।

एमएससी कैमिस्ट्री व मैथ्स की सीटें बढ़ीं
इसके साथ ही एनईएस कॉलेज में एक और सुविधा के तौर पर एमएससी कैमिस्ट्री और मैथ्स की सीटें बढ़ा दी गई है। पहले एमएससी के इन दोनों विषयों के लिए 15-15 सीटें थीं। छात्रों की बढ़ती संख्या को देखते हुए कॉलेज प्रबंधन ने सीटें बढ़ाने की मांग की थी। इस सत्र में एनईएस पीजी कॉलेज में एमएससी कैमिस्ट्री व मैथ्स में 30-30 सीटें हो गई हैं।

खबरें और भी हैं...