पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बड़ी लापरवाही:लॉकडाउन से पहले बाजार में भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग को भूले, मास्क भी नहीं पहना

जशपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सख्त लॉकडाउन के डर से लोगों ने जरूरत से ज्यादा की खरीदारी

22 सितंबर की रात्रि 12 से 29 सितंबर तक पूरे जिले में संपूर्ण लॉकडाउन होगा। इस लॉकडाउन में सब्जी व फल दुकानें तक नहीं खुलेंगी। लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए प्रशासन भी सख्त है और पुलिस बल की तैनाती भी की जाएगी। लॉकडाउन में सात दिनों तक लोगों को अपने घरों में ही रहना है। सात दिन तक बाजार बंद होने की घोषणा से लेाग सोमवार को आवश्यक सामान खरीदने अपने घरों से निकले। दोपहर में बाजार में ऐसी भीड़ लग गई जैसे कोई त्यौहारी बाजार हो। ज्यादा भीड़ किराना दुकानों में देखी गई। इसके अलावा सब्जी, फल व अंडा दुकानों में भी भीड़ देखी गई। किराना दुकान वाली हर गली में सोमवार को ग्राहक काफी ज्यादा थे। दुकानदारों ने अपनी तरफ से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए व्यवस्था बनाई थी पर भीड़ इतनी थी कि इसका पालन नहीं हो सका। सामान जल्दी लेने के चक्कर में लोग एक दूसरे से सटकर ही नहीं बल्कि दूसरे को धकेलकर आगे बढ़कर खरीदी करते हुए देखे गए। कुछ ऐसा ही हाल सब्जी मार्केट में भी देखने को मिला। सब्जी मार्केट में भी भीड़ ज्यादा थी और एक सब्जी दुकान में एक साथ 5 से छह ग्राहक खरीदी कर रहे थे। सब्जी विक्रेताओं की दुकानें भी एक दूसरे से सटकर लगी हुई थी।

भीड़ में जाने से यह हो सकता है नुकसान
सोमवार के बाजार में जो भीड़ जुटी उसमें यदि कोई बगैर लक्षण वाला संक्रमित व्यक्ति होगा तो उसके जरिए कई लोगों में संक्रमण फैल चुका होगा। जिनके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम है उनमें बीमारी के लक्षण पांच से सात दिन बाद नजर आएंगे। इससे शहर में कोरोना के केस बढ़ सकते हैं। यदि केस बढ़ते हैं तो शहर को फिर से कंटेनमेंट जाेन घाेषित किया जाएगा और यहां फिर 7 दिन के लिए दुकानें बंद होंगी। बगीचा नगर पंचायत बढ़ते केस के कारण बीते 20 दिन से बंद है।

बारिश के कारण पास-पास खड़े नजर आए लोग
सोमवार को मौसम भी बार-बार खराब होता रहा। दिन में तीन बार आधे-आधे घंटे के लिए बारिश हुई। बाजार में भीड़ और अचानक हुई बारिश के साथ अफरा-तफरी का माहौल बना। जो लोग घरों से निकले थे वे बारिश से बचने के लिए दुकानों के छज्जों में खड़े हो गए। बारिश से बचने के लिए लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग को पूरी तरह से भुला दिया। हैरान की बात है कि भीड़ भरी बाजार में कई लोग बगैर मास्क के भी नजर आए।
प्रशासन ने भी व्यवस्था बनाने पर नहीं दिया ध्यान
लॉकडाउन से पहले वाले बाजार में भीड़ जुटना लाजिमी है। पर संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन की घोषणा के अलावा प्रशासन और कुछ नहीं कर रहा है। भीड़ वाली जगहों पर व्यवस्था बनाने के लिए प्रशासन की ओर से कोई पहल नहीं हुई। बीते एक महीने से ना मास्क को लेकर सख्ती बरती जा रही है और ना ही भीड़ कम करने को लेकर।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें