समीक्षा बैठक:सरकार की योजनाओं का लाभ दें अफसर: कलेक्टर

जशपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अफसरों की बैठक लेते कलेक्टर रितेश। - Dainik Bhaskar
अफसरों की बैठक लेते कलेक्टर रितेश।

पदभार ग्रहण करने के बाद कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल ने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी योजनाओं का जिले में बेहतर तरीके से संचालन करना है।

समीक्षा बैठक में उन्होंने राजीव गांधी किसान न्याय योजना, मनरेगा, नरवा, गरूवा, घुरूवा, बाड़ी योजना, धान खरीदी की तैयारी, ग्राम पंचायत 14वें एवं 15वें वित्त की राशि का उपयोग, गौण खनिज मद, गौठानों में मल्टीएक्टीविटी, सक्रिय गौठानों की संख्या, चारागाह विकास, नरवा विकास, चबूतरा निर्माण की स्थिति, सोसायटी के माध्यम से किसानों के पंजीयन, जल जीवन मिशन योजना, मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना, मुख्यमंत्री वृक्षारोपण योजना, राजीव गांधी ग्रामीण कृषि भूमिहीन मजदूर न्याय योजना सहित अन्य योजनाओं की भी जानकारी ली।

कलेक्टर ने कहा कि दूरस्थ अंचल के लोगों तक शासन की योजनाओं को पहुंचाना प्राथमिकता की श्रेणी में हैं। उन्होंने आगामी दिनों में होने वाले कलेक्टर कान्फ्रेंस के लिए सभी विभागों के अधिकारियों को विभागीय एजेंडे की तैयारी के साथ जानकारी भेजने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने जिले में कोरोना संक्रमण की सुरक्षा के लिए किए गए उपाय कोरोना टेस्ट, टू नॉट टेस्ट, आरटीपीसीआर टेस्ट और 18 से 45 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण की भी जानकारी ली।

उन्होंने छूटे हुए लोगों का शत प्रतिशत टीकाकरण करवाने के लिए सार्थक प्रयास करने के निर्देश दिए। साथ ही तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए जिला अस्पताल और कोविड केयर सेंटर में ऑक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता, आईसीयू बेड और अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी ली।

जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि जिले के सभी विकासखंड में 8 अंग्रेजी माध्यम स्कूल का संचालन किया जा रहा है। शिक्षक की भर्ती प्रक्रियाधीन है और निर्माण कार्य भी प्रगति रथ है। उन्होंने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को क्षेत्र में निरंतर भ्रमण करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने क्रेडा विभाग से सौर सुजला योजना की जानकारी लेते हुए वन पट्टाधारी किसानों को भी सौर सुजला योजना का लाभ देने के निर्देश दिए।

उन्होंने राजीव गांधी किसान न्याय योजना की समीक्षा करते हुए पात्र किसानों को पंजीयन करके योजना से लाभांवित करने के लिए भी कहा है। राजस्व एवं सहकारिता विभाग को किसानों के सत्यापन कार्य में प्रगति लाने के निर्देश दिए हैं ताकि धान खरीदी अच्छी तरीके से किया जा सके साथ ही योजना का लाभ दिया जा सके।

जल जीवन मिशन की समीक्षा करते हुए उन्होंने जिले के दूरस्थ अंचल के आंगनबाड़ी, स्वास्थ्य केन्द्र, स्कूल, आश्रम-छात्रावासों तक भी सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। टेंडर की प्रक्रिया में तेजी लाते हुए कार्य में प्रगति लाने के लिए कहा है। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को हाट बाजार क्लीनिक लगाकर ग्रामीणों को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

खबरें और भी हैं...