सुविधा:अस्पतालों में ओआरएस जिंक कार्नर खुलेंगे

जशपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • डायरिया नियंत्रण पखवाड़ा बुधवार से
  • जिले में 8 से 21 जुलाई तक चलेगा अभियान, बच्चों को ओआरएस घोल पिलाने करेंगे जागरूक

जिले में भी 8 जुलाई से लेकर 21 जुलाई तक गहन डायरिया नियंत्रण पखवाड़ा आयोजित किया जाएगा, जिसका मुख्य उद्देश्य डायरिया से बच्चों में होने वाली मृत्यु को शून्य करना है। मंगलवार को कलेक्टर की अध्यक्षता में डिस्ट्रिक टास्क फोर्स समिति को जिले में  होने वाले गहन डायरिया नियंत्रण पखवाड़ा 8 जुलाई से 21 जुलाई एवं शिशु संरक्षण विटामिन ए अनुपूरक कार्यक्रम 14 जुलाई से 14 अगस्त के सफल संचालन के लिए ऑनलाइन जानकारी दी गई । 
यह गतिविधियां होंगी  

  • सामुदायिक स्तर पर- मितानिन द्वारा 5 वर्ष से कम आयु के सभी बच्चे के घरों पर ओआरएस. का वितरण तथा उसके उपयोग के संबंध में सलाह, ओआरएस व जिंक घोल बनाने की विधि का प्रदर्शन किया जाएगा। इस दोैरान फिजिकल डिस्टेंसिग, हैंड वाशिंग और मास्क पहनकर से संबंधित दिशा-निर्देशों  का पालन करना होना। 
  • स्वास्थ्य कार्यकर्ताएं सभी काउंसलिंग सत्र में ओआरएस - जिंक की महत्ता, दस्त होने पर मां के दूध पिलाने की आवश्यकता, हाथ धोने की तथा शौच के लिए टाॅयलेट की उपयोग के बारे में जानकारी देंगी।
  • स्वास्थ्य संस्थाओं में- इस पखवाड़ा में जिले के सभी प्राथमिक में सामुदायिक तथा जिला चिकित्सालय में ओ.आर.एस.-जिंक काॅर्नर बनाये जाएंगें जहां ओ.आर.एस. एवं जिंक घोल बनाने की विधि बताई जायेगी। डायरिया के मरीजों का इलाज किया जाएगा। 

कोरोना गाइडलाइन का किया जाएगा पालन 

  • सेवा प्रदान करते समय फिजिकल डिस्टेंसिंग, हाथ धोना, रेस्पिरेटरी हाइजीन को बनाए रखना।
  • स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं को प्रशिक्षण देने के लिए डिजिटल प्लेटफार्म का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करना।
  • नॅन कंटोनमेंट जोन में  घरों तथा कुएं व जल स्त्रोतों की साफ-सफाई एवं संक्रमण को रोकने के लिए क्लोरीन टेबलेट्स वितरित किया जाएगा।
खबरें और भी हैं...