पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जांच शुरू:पीएम गरीब कल्याण योजना में वसूली

जशपुर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

फरसाबहार थाने के सामने पंचायत भवन में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के नाम पर संचालित कार्यालय में सोमवार को कुनकुरी एसडीओपी मनीष कुंवर ने दबिश दी। उन्हाेंने कार्यालय के दस्तावेज जब्त करते हुए और स्टांप पेपर से भरी आलमारी को सील किया है।

कार्यालय का संचालन कर रहे सतनाम साय ने एसडीओपी को बताया कि वह स्वयं भी ठगी का शिकार हुआ है और एक महिला और पुरूष के शामिल होने की बात कह रहा है। इसकी जांच में पुलिस जुटी हुई है। बीते सप्ताह शुक्रवार को मामला उस वक्त उजागर हुआ था कि हितग्राहियों ने सतमन साय से अपने रुपए वापस मांगें। रकम वापस दिए जाने की जगह सतमन सिंह ने खाते में 3 लाख रुपए खाते में जमा होने की बात कहकर उन्हें भगा दिया था। स्थानीय पत्रकारों के हस्तक्षेप के बाद इस मामले में ने सतमन साय को योजना के संचालन की अनुमति और योजना से जुड़े तमाम दस्तावेजों को प्रस्तुत करने का निर्देश दिया था। लेकिन निर्धारित समय पर सतमन साय कोई दस्तावेज पेश नहीं कर पाया। रुपए वापस मिलने की उम्मीद से सोमवार की ग्रामीण फरसाबहार पहुंच गए थे। मामला को बिगड़ता हुआ देख,सतमन साय ने 29 ग्रामीणों की मूल राशि वापस की। रुपए वापस मिलने के बाद,पीड़ितों ने पुलिस को दिए गए आवेदन में कार्रवाई ना चाहने के साथ,जमा कराएं गए शपथ पत्र को वापस दिलाने की गुहार लगाई है।

ऐसे हो रही वसूली
प्रधाममंत्री गरीब कल्याण योजना के नाम पर ग्रामीणों को 10 हजार 5 सौ रुपए जमा कर,योजना में शामिल होने किया जा रहा है। उन्हें यह कहा जा रहा है कि 15 दिन के अंदर खाते में 3 लाख रुपए जमा होने और इसके बाद 24 साल तक हर साल 10 हजार जमा करते रहने पर 25 वें साल 60 हजार रुपए के बोनस के साथ 3 लाख रुपए खाते में जमा होने की बात कही गई है। इस तरह 24 साल में 6 लाख रुपए पाने के लालच में 4 सौ से अधिक ग्रामीण,पैसे जमा कर चुके हैं। सतमन साय के मुताबिक उसने दो लोगों को,ग्रामीणों से वसूले गए 15 लाख रुपए दे चुका है।

दस्तावेज जब्त किए हैं, चल रही है जांच
कार्यालय से दस्तावेज जब्त कर मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद आगे की कार्रवाई के लिए जांच प्रतिवेदन उच्चाधिकारियों को प्रेषित किया जाएगा।
-मनीष कुंवर, एसडीओपी, कुनकुरी।

खबरें और भी हैं...