पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मामले में पुलिस ने दो आरोपी को किया गिरफ्तार:चाकू की नोंक पर ग्रामीण से 4.5 लाख रुपए की लूट

जशपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जमीन बिक्री कर घर लौट रहे एक आरा निवासी ग्रामीण से चाकू की नाेंक पर चार लाख रुपए की लूट हो गई। पीड़ित ने घटना की रिपोर्ट कोतवाली में दर्ज कराई थी। रिपोर्ट के बाद जब पुलिस ने मामले की छानबीन की, तो पीड़ित का साला ही आरोपी निकला। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके पास से लूट की रकम से 1 लाख 90 हजार रुपए बरामद कर लिए हैं। शेष रकम की बरामद के लिए उनसे पूछताछ जारी है।

आरा निवासी रामसेवक राम ने आरा के पीएचसी के पास स्थित पैतृक जमीन का सौदा 7 लाख रुपए में तय किया था। 12 जून को वह महेश उरांव, पत्नी सुचिता बाई के साथ जमीन की रजिस्ट्री करने के लिए बोलेरो स जशपुर आया था। जमीन की रजिस्ट्री होने पर महेश उरांव ने 6 लाख 12 हजार रुपए नगद और 88 हजार रुपए का चेक दिए थे। इन पैसों में से रामसेवक ने 12 हजार रुपए का एक मोबाइल खरीदा और 50 हजार रुपए को पंजाब नेशनल बैंक में जमा करने के बाद शहर में ही रुक गया, जबकि पत्नी सुचिता महेश उरांव के साथ बोलेरो से वापस आरा चली गई। रामसेवक राम ने बताया कि उसने एक गमछे में साढ़े 4 लाख रुपए और चेक को रखकर बांकीटोली स्थित हनुमान मंदिर के पास ससुराल गया था। यहां उसने साले राजेश्वर राम के साथ शराब पिया और नशे में धुत होकर गमछा में लपेटे हुए 4.5 लाख नगद को लेकर रात 9 बजे गम्हरिया स्थित फूफा के घर जाने निकला।

गम्हरिया पुल से आगे वनश्री के बोर्ड के पास पीछे से आए दो नकाबपोश हथियारबंद युवकों ने उससे रुपयों से भरा हुआ गमछा छीन लिया और फरार हो गए। गिरफ्तारी के बाद आरोपी राजेश्वर ने लूट की रकम को आरा के अंदरूनी जंगली इलाके में स्थित एक गांव में मंगेतर के घर में छिपाने की बात कही थी। गांव में पूछताछ करने पर पता चला कि लड़की का जो नाम बता रहा है, उस नाम की कोई युवती उस गांव में रहती ही नहीं है। सख्ती से पूछताछ करने पर आरोपी ने घर के बाथरूम में पैसे छुपाकर रखने की बात कही।

पीड़ित के बताए हुलिए से उसके साले पर हुआ शक
कोतवाली प्रभारी ओप्रकाश ध्रुव ने बताया कि प्रार्थी ने घटना की रिपोर्ट 4 दिन बाद 16 मई को कोतवाली में की। उसने आरोपियों का जो हुलिया बताया था, वह उसके साले के साथ मैच कर रहा था। संदेह के आधार पर साले राजेश्वर को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने विनय के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया।

खबरें और भी हैं...