पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आगे से ऐसा न करने की हिदायत दी गई:रुकवाई मंगनी, बालिका वधू बनने से बची किशोरी

अंकिरा/सिंगीबहार12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सगाई रुकावाने पहुंची प्रशासन की टीम। - Dainik Bhaskar
सगाई रुकावाने पहुंची प्रशासन की टीम।

तपकरा थाना क्षेत्र में एक बालिका को बधू बनने से बचा लिया गया। 16 वर्षीय किशोरी की शादी उसके परिजनों नेे तय कर दी थी, शुरूआती रस्म मंगनी के मौके पर महिला बाल विकास परियोजना व पुलिस की टीम पहुंच गई और रस्म को रोक दिया। हालांकि इस दौरान मौजूद लड़की व लड़के पक्ष से टीम की काफी देर तक बहस हुई। फिलहाल टीम की ओर से परिजनों को समझाईश देते हुए आगे से ऐसा न करने की हिदायत दी गई है।

ग्राम पंचायत केरसई में 16 वर्षीय किशोरी की शादी के लिए ग्राम पंचायत बोखी के बिरहीपानी से लड़के पक्ष के परिवार मंगनी करने के लिए पहुंचे थे। लड़का पक्ष के पहुंचने के बाद मुखबिर की सूचना मिलने पर तपकरा परियोजना अधिकारी आई खेस्स एवं फरसाबहार थाना प्रभारी एलआर चौहान एवं स्टाफ ने मंगनी कार्यक्रम में पहुंच गए। जहां परिवार के दोनों पक्षों को बुलवा कर समझाई दी और शासन के नियमानुसार उम्र होने पर शादी करने की हिदायत दी गई। महिला बाल विकास के द्वारा उपस्थित लोगों को बताया गया कि कम उम्र में शादी करने से लड़की और लड़के को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

उन्होंने बताया कि शादी करने का सही उम्र लड़के की 21 और लड़की की 18 होना चाहिए। उसके बाद ही शादी करनी चाहिए। तपकरा थाना प्रभारी एलआर चौहान ने बताया कि यदि कम उम्र में शादी होती है तो ये कानून अपराथ के श्रेणी में आता है। जिससे कभी भी कम उम्र में शादी नहीं करना चाहिए बल्कि आस पड़ोस में ऐसी शादी या सगाई हो तो उनको अवश्य समझाए जानकारी दें यदि नही मानते हैं तो कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...