पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मौसम:अलोरी, पटिया और सोनक्यारी क्षेत्र में आधे घंटे तक गिरे ओले, धरती बर्फ की सफेद चादर से ढंक गई

जशपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 10 मिनट चली आंधी, शहर सहित जिले के कई इलाकों में बारिश होने से तापमान औसत से 8 डिग्री सेल्सियस नीचे गिरा

जशपुर के कई इलाकों में गुरुवार की दोपहर को बारिश व ओलावृष्टि हुई। शहरी इलाके में आंधी के बाद आधे घंटे तक तेज मूसलाधार बारिश से शहर तरबतर हो गया, वहीं मनोरा, अलोरी, पटिया व सोनक्यारी इलाके में दोपहर 2 बजे से 2.30 बजे तक आसमान से सिर्फ ओले गिरे हैं। ओलावृष्टि से कारण धरती बर्फ से पूरी तरह से ढक गई । हर तरफ बर्फ ही बर्फ का नजारा था। अलोरी की घाटी में हर तरफ बर्फ देखकर ऐसा लग रहा था जैसे यह कश्मीर हो। ठंड भी कंपाने वाली थी। जशपुर जिले में दो दिन हुई बारिश के कारण वातावरण में नमी 50 प्रतिशत हो गई है, जिसका असर तापमान पर भी पड़ा। फरवरी माह में दिन का अधिकतम तापमान सामान्य से 8 डिग्री कम है। मौसम में अधिकतम तापमान 29 डिग्री होना चाहिए पर गुरुवार को बारिश के बाद अधिकतम तापमान 21 डिग्री दर्ज किया गया। मंगलवार को जिलेभर में हुई बारिश के बाद मौसम ठंडकता आ गई। बुधवार को दिनभर आसमान में बादल छाए रहे और दिन का अधिकतम तापमान गिरकर 20 डिग्री तक पहुंच गया था। गुरुवार की सुबह हल्की धूप निकलने से लोगों ने राहत की उम्मीद की थी, पर दोपहर तक फिर से आसमान को बादलों ने ढंक लिया। दोपहर तीन बजे तक घने काले बादल छा गए और शाम 4 बजे से तेज हवाएं चलनी शुरू हुई। शहरी इलाके में करीब दस मिनट तक तेज हवाओं के बाद बारिश शुरू हो गई।

आम के बौर झड़ गए
आंधी से आम के बौर झड़ गए हैं। गेहूं, मूंगफली, उड़द, मूंग, कुल्थी सहित अन्य दलहन की फसल को नुकसान पहुंचा है। कृषि विभाग के अधिकारियों के मुताबिक नुकसान सिर्फ उन्हीं इलाकों में हुआ है, जहां ओलावृष्टि हुई है।
शनिवार तक बादल रविवार से मिलेगी राहत
मौसम विशेषज्ञों के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण आसमान में बादलों का डेरा इस सप्ताह शनिवार तक बना रहेगा। रविवार से मौसम खुलने की उम्मीद है। वर्तमान में शहर का न्यूनतम तापमान 12 डिग्री पर पहुंच गया है।

नहीं छूट रहा अलाव और गर्म कपड़ों का साथ
गुरुवार को दोबारा हुई बारिश के कारण लोगों को ठंड और बढ़ गई है। शाम को सूर्यास्त से पहले ही जगह-जगह अलाव जल उठे थे। ठंड से राहत पाने के लिए लोगों को मोटे गर्म कपड़े पहनने पड़े। शाम को लोग सिर से लेकर पांव तक गर्म कपड़ों में लिपटे नजर आए। कई साल बाद ऐसा हो रहा है जब फरवरी के महीने में लोगों को ठंड से राहत पाने के लिए अलाव व गर्म कपड़ों की जरूरत पड़ रही है।
छप्पर वाले घरों को नुकसान आंकलन आज होगा
अलोरी, पटिया व सोनक्यारी इलाके में ओलावृष्टि से ग्रामीणों को काफी नुकसान पहुंचा है। इन इलाकों में स्थित गांव में अधिकांश मकान खपरैल छत वाले हैं। ओले गिरने से छप्पर टूट गए और ओले घर के कमरों में भी गिरे। एसबेस्टस छत वाले घरों में भी ओलावृष्टि से कितना नुकसान हुआ है। इसका आंकलन आज किया जाएगा। गुरुवार की शाम को मनोरा के जनपद सीईओ मौके पर निरीक्षण के लिए पहुंचे थे।

गाज की चपेट में आने से महिला की हुई मौत
अकाशीय बिजली की चपेट में आने से जंगल में पत्ता तोड़ने के लिए गई महिला की मौत हो गई। महिला को बेहोशी के हालत में अस्पताल लाया गया था, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। मामला सिटी कोतवाली क्षेत्र के ग्राम मरगा डूमरटोली का है। गुरुवार की शाम 4 बजे मरगा डूमरटोली निवासी 35 वर्षीय मनबति टोप्पो पति प्रदीप टोप्पो अपनी सहेलियों के साथ पास के जंगल में पत्ता तोड़ने के लिए गई थी। शाम 4 बजे के आसपास बादल छाए और बारिश होने लगी। इसी बीच गाज की चपेट में महिला आई तो मौके पर बेहोश होकर गिर गई। साथियों की मदद से उसे जिला चिकित्सालय लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें