पुलिस ने जताया गला दबाकर हत्या करने का संदेह:जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट की थी नहर के अंदर बोरे में मिला उसका शव

अकलतरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उर्मिला पाटले। - Dainik Bhaskar
उर्मिला पाटले।
  • 5 दिन से लापता थी महिला, पति ने किसी के साथ जाने की जताई थी आशंका

पांच दिन पहले जिस महिला के लापता होने की रिपोर्ट उसके पति ने लिखाई थी, उस महिला की लाश मंगलवार की रात को नहर में मिली। लाश एक बोरा में भरी थी, आधा शरीर बोरा के अंदर था, आधा शरीर बोरा के बाहर था। महिला के पति ने गुमशुदगी रिपोर्ट में ही किसी एक व्यक्ति के साथ महिला के जाने की आशंका जताई थी। जिस स्थिति में लाश मिली है, उससे शंका है कि उसकी हत्या कर लाश को नहर में बहा दिया गया। पुलिस ने तीन संदेहियों को हिरासत में लिया है।

अकलतरा के वार्ड नंबर 20 में रहने वाली उर्मिला की शादी पामगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम पेंड्री निवासी राजेंद्र पाटले के साथ करीब नौ साल पहले हुई थी। राजेंद्र के पिता वेदराम ने बताया कि राजेंद्र शादी के करीब दो माह बाद ही अपनी पत्नी के साथ अकलतरा के वार्ड नंबर 20 में रहने लगा था। राजेंद्र पहले अपने ससुराल में ही रहता था, बाद में उस अलग कमरा लेबर कॉलोनी में बना लिया था।

राजेंद्र किसी गोदाम में हमाली का काम करता था। वेदाराम के अनुसार उसकी बहू भी कहीं काम पर जाती थी। इस दंपती के दो बेटी और एक बेटा है। बड़ी बेटी 7 साल, दूसरी बेटी 5 साल और छोटा बेटा 3 साल का है। महिला 9 अक्टूबर को काम करने के लिए गई थी, लेकिन इसके बाद वह घर नहीं लौटी तो उसके पति राजेंद्र ने महिला की गुमशुदगी की रिपोर्ट अकलतरा थाना में दर्ज कराई थी। वह अपने स्तर पर अपनी पत्नी की तलाश कर रहा था कि मंगलवार की रात को पुलिस को तरौद से किरारी की ओर जाने वाली मुख्य नहर में किसी महिला की डेड बॉडी होने की सूचना मिली। रात करीब 8 बजे पुलिस मौके पर पहुंची।

पति ने शव की पहचान साड़ी देखकर की
टीआई मनीष परिहार के अनुसार शव का पंचनामा किया गया। इसके बाद शव की शिनाख्ती के लिए राजेंद्र पाटले को बुलाया। चूंकि लाश पानी में बहते हुए आई थी और पुरानी हो चुकी थी, इसलिए चेहरा खराब हो गया था। लेकिन उसके पति राजेंद्र पाटले ने महिला ने जो साड़ी पहनी थी उस साड़ी के आधार पर ही शव की पहचान अपनी पत्नी उर्मिला के रूप में की।

दो डॉक्टर्स की टीम ने किया पोस्टमार्टम
महिला के शव का पोस्टमार्टम पुलिस ने दो डॉक्टर्स की टीम से कराया है। डॉ. जेआर आरमोर और महिला डॉ ललिता टोप्पो ने पोस्टमार्टम किया है। पोस्टमार्टम करने वाले डॉ. आरमोर ने बताया कि गले में चोट के निशान है, उसी से महिला की मौत हुई होगी। प्रारंभिक रिपोर्ट में इसी से मौत होना बताया गया है। अंतिम रिपोर्ट से कुछ तय हो पाएगा।

इन तीन लोगों से की जा रही पूछताछ
महिला के पति ने गुमशुदगी के साथ ही महिला का किसी के साथ जाने की भी आशंका जताई थी। पुलिस ने युवक की आशंका के आधार पर ग्राम तरौद के युवक चंद्रमणि वैष्णव, शिव महंत एवं सुरेंद्र श्रीवास को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। इन्हीं में एक के साथ जाने का संदेह पति ने जताया था।

आज करेंगे हत्या के आरोपी का खुलासा
महिला की संदिग्ध लाश नहर में मिली थी, हत्या की संभावना है। अभी तीन संदेहियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। गुरुवार को मामले का खुलासा हो सकता है।’’
-संजय महादेवा, एएसपी, जांजगीर-चांपा

खबरें और भी हैं...