पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ऑपरेशन शिवांश:अपहरण के बाद भाई को बुलाया और दे दी बाइक

खरसिया12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • किडनैपिंग मामले में चौथा आरोपी गिरफ्तार

शिवांश के अपहरण मामले में पुलिस ने सोमवार को चौथे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वह अपहर्ताओं में एक का भाई है। वारदात के बाद उसी ने बाइक को ठिकाने लगाया था। मुख्य आरोपी खिलावन दास महंत ने बताया कि बालक शिवांश को बाइक पर बिठाकर योजना के मुताबिक बंधुवा तालाब के पास पहुंचा और अपहरण में शामिल अमरदास महंत के भाई प्रीतम महंत को बुलाकर बाइक उसे सौंप दी, वहीं शिवांश को लेकर अर्टिगा कार के पास पहुंचा, वहीं आरोपी अमर, संजय सिदार के साथ बच्चे को कार में बिठाकर रांची झारखंड की ओर रवाना हुआ। अमरदास का भाई अपहरण की साजिश से वाकिफ होते हुए घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल को छिपाने एवं साक्ष्य नष्ट करने के उद्देश्य से मोटरसाइकिल के पीछे की नंबर प्लेट को हटाकर तथा सामने के नंबर प्लेट में स्क्रैच कर बंजारी-अड़भार अपने रिश्तेदार मानिक दास के यहां छोड़ आया, ताकि पुलिस व किसी अन्य व्यक्ति को उस पर शक न हो। आरोपी खिलावन की निशानदेही पर बाइक बंजारी से बरामद की गई। मामले में साक्ष्य छुपाने की धारा 201 जोड़ी गई तथा आरोपी प्रीतम दास महंत (20) नवापारा खरसिया को गिरफ्तार कर लिया गया। मामले में खिलावन (28) अमर दास महंत (23) एवं संजय सिदार पिता छेदीलाल सिदार (30) की गिरफ्तारी हो चुकी है। उल्लेखनीय है कि शनिवार को हुई इस घटना की प्रदेशभर में चर्चा रही। अपहरण के 7-8 घंटे बाद ही झारखंड के खूंटी में आरोपियों को पकड़ लिया गया था।

घटना समझने आरोपियों को ले गए मौके पर
खरसिया पुलिस ने सोमवार को आरोपियों द्वारा घटना में किन-किन मार्गों का प्रयोग किया गया तथा किस प्रकार घटना को अंजाम दिया गया। उसके आरोपियों को कड़ी सुरक्षा में लेकर उनके बताए अनुसार घटना का रीक्रिएट कराया गया। इस दौरान आरोपियों ने बताया कि वे किन-किन मार्गों का प्रयोग किए थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें