किसान तहसील कार्यालयों में कर सकते है संपर्क:धान खरीदी पंजीयन से जुड़ी विसंगतियों को तहसील माड्यूल से किया जा रहा दूर

रायगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

खरीफ वर्ष 2021-22 में किसान पंजीयन के लिए 10 नवंबर तक मिले आवेदनों के पंजीकरण तथा तकनीकी त्रुटि में सुधार के लिए 20 नवंबर तक समय सीमा तय की गई थी, जिसकी जानकारी हर समिति में दी जार ही है। जिले के किसान उस लिस्ट को देखकर विसंगति या कोई त्रुटि मिलने पर अपना दावा-आपत्ति समिति स्तर पर जमा कर सकते है।

जिसका परीक्षण तहसील स्तर पर गठित राजस्व, खाद्य, सहकारिता के दल द्वारा किया जा रहा है। दल के अभीमत अनुसार संबंधित तहसीलदार मॉड्यूल से इस सुधार को अंजाम दे रहे हैं। कार्यवाही करने के लिए किसानों की सुविधा के लिए समस्त लंबित आवेदनों के निराकरण के संबंध में अब से ऑनलाइन तहसील माड्यूल एवं अपैक्स बैंक के द्वारा उनके मॉड्यूल से कार्य को पूर्ण किया जा रहा है।

इसमें जिले में 10 नवम्बर 2021 तक प्राप्त नवीन किसान पंजीयन के आवेदन के पंजीकरण की कार्यवाही की जा रही है। भुईंया पोर्टल में दर्ज गिरदावरी डेटा के अनुसार किसान पंजीयन में रकबा संशोधन/अपडेशन/ वारिसान पंजीयन, संयुक्त खाते वाले किसान पंजीयन, निरस्त किए जाने योग्य पंजीकरण के निरस्तीकरण, अधिया/रेगहा संबंधी पंजीयन, डुबान संबंधी पंजीयन की कार्यवाही संबंधित तहसीलदारों के मॉड्यूल से किया जा रहा है। इसी तरह अपेक्स बैंक के द्वारा समिति से ग्राम की मैपिंग में संशोधन एवं सुधार तथा पंजीकृत कृषकों के उपार्जन केन्द्र संशोधन/परिवर्तन से संबंधित कार्यवाही की जा रही है।

खबरें और भी हैं...