पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिफ्टिंग का कार्य:आबादी बढ़ी तो संकरी हो गई सड़क 49 साल बाद शिफ्ट किए गए बापू

रायगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांधी चौक से हटाकर एसपी ऑफिस के नजदीक लगाई जा रही है प्रतिमा

49 साल बाद गांधी प्रतिमा की जगह बदली गई है। गुरुवार को गांधी प्रतिमा (इलाके का नाम) से बापू की प्रतिमा हटाई गई। इसे एसपी कार्यालय के नजदीक लगाया जाएगा। एक-दो दिन के भीतर शिफ्टिंग पूरी की जाएगी। नगर निगम का मानना है कि शहर बढ़ने के साथ भीड़ बढ़ी है। प्रतिमा के सामने स्ट्रीट वेंडर, सब्जी और फल की दुकान वालों ने कब्जा जमा लिया है। चौक संकरा हो गया है इसलिए प्रतिमा शिफ्ट की गई है ताकि यहां सड़क चौड़ी हो। प्रतिमा को सम्मान के साथ कवर लगाकर क्रेन से हटाया गया।

अपेक्स बैंक भी होगा शिफ्ट
गांधी प्रतिमा चौक के पास अपेक्स बैंक को कोतरा रोड, होटल ट्रिनिटी के पास शिफ्ट करने की तैयारी चल रही है। मार्केट अनलॉक होने के बाद बैंक की शिफ्टिंग होगी। यहां मार्केट आने वालों के साथ ही ग्रामीण इलाकों से आए लोगों की भीड़ होती है। पिछले कुछ महीनों में यहां बोनस लेने वाले और धान खरीदी की राशि निकालने बड़ी संख्या में किसानों को जमावड़ा रहा। कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान ही बैंक शिफ्ट किए जाने की बात कही थी। बैंक की शिफ्टिंग से चौक चौड़ा होगा और ट्रैफिक की समस्या कुछ हद तक कम होगी।

1972 में तब श्यामाचरण शुक्ल ने किया था अनावरण
कांग्रेस नेता और पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष दिनेश जायसवाल ने बताया कि मध्यप्रदेश के समय में 1972 श्याम बाबू नगर पालिका के अध्यक्ष हुआ करते थे। तभी प्रतिमा की स्थापना की गई थी, इस प्रतिमा का उद्घाटन करने के लिए तत्कालीन मुख्यमंत्री पं. श्यामाचरण शुक्ल रायगढ़ आए थे, अब 49 वर्षों के बाद अब गांधी प्रतिमा की जगह बदली जा रही है।

सुप्रीम कोर्ट का भी है आदेश, सुरक्षित हों चौराहे
जिस जगह में गांधी जी प्रतिमा है उसके आसपास इलाके में काफी ज्यादा अव्यवस्था रहती है, वहां बैंक होने की वजह से हमेशा भीड़ लगी होती है। वहां पर मार्केट भी लगता है, लोगों ने आसपास इलाकों कब्जा किया हुआ है। कलेक्टर के निर्देश के बाद उसे अब पुलिस अधीक्षक कार्यालय के पास खाली जगह में शिफ्ट किया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट का भी निर्देश है कि चौक चौराहों को सुरक्षित जगह शिफ्ट करना है, उसका भी अनुपालन किया जा रहा है, एक-दो दिन में काम वहां हो जाएगा।''
-आशुतोष पांडेय, आयुक्त, नगर निगम

खबरें और भी हैं...