स्वास्थ्य सुविधा:5 स्वास्थ्य केंद्रों में शुरू होंगे ब्लड बैंक, बाकी में स्टोरेज सुविधा

रायगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अफसरों की बैठक लेते कलेक्टर भीम सिंह - Dainik Bhaskar
अफसरों की बैठक लेते कलेक्टर भीम सिंह
  • सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में होंगे सर्वसुविधायुक्त ऑपरेशन थियेटर, डिलीवरी व दूसरी सर्जरी भी हो सकंेगी

कोरोना की तीसरी लहर के मद्देनजर जिले के सभी अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी। जिले की 5 सीएचसी में ब्लड बैंक और सर्वसुविधायुक्त ऑपरेशन थियेटर भी खोले जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग ने इसका प्रस्ताव तैयार कर लिया है। गुरुवार को कलेक्टर ने इन सुविधाओं के प्रस्तावों की समीक्षा करने के बाद सभी कार्यों को तय समय में पूरा करने का आदेश दिया है।

कलेक्टर भीम सिंह ने बताया कि सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में सर्वसुविधायुक्त ऑपरेशन थियेटर और लेबर रूम तैयार किए जाएंगे, जिसमें गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी के साथ दूसरी जनरल सर्जरी भी हो सकेगी। इसके अलावा अस्पतालों में इमरजेंसी रूम, आईसीयू और ऑक्सीजन बेड की भी व्यवस्था की जाएगी। जिले में शेष बचे अस्पतालों में भी ऑक्सीजन पाइपलाइन का कार्य शुरू कराया जाएगा, ताकि कोरोना के मरीजों व गंभीर मरीजों को स्थानीय हॉस्पिटल में ही इलाज की सारी सुविधा मिल जाए।

यहां खुलेंगे ब्लड बैंक
जिले के 5 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र धरमजयगढ़, लैलूंगा, घरघोड़ा, सारंगढ़ और खरसिया में ब्लड बैंक खोलने को प्रस्ताव में शामिल करने कहा है। इसके अलावा शेष अन्य सामुदायिक केन्द्रों में ब्लड स्टोरेज खोले जाएंगे। कलेक्टर ने इन अस्पतालों में कराए जाने वाले स्वास्थ्य सुविधाओं संबंधित निर्माण कार्यों के प्रपोजल पर भी चर्चा की। इसमें उन्होंने ब्लड बैंक बनाने के साथ-साथ हमर लैब, ओपीडी, डॉक्टर लैब, वेटिंग एरिया आदि पर आर्किटेक्ट द्वारा बनाए ले आउट को देखा। लैब में मरीजों को विभिन्न बीमारियों की जांच की सुविधा स्थानीय स्तर पर मिल जाएगी।

सप्लाई घटने पर स्थानीय स्तर पर होगी दवाओं की खरीदी
कलेक्टर ने सभी बीएमओ अस्पतालों में डॉक्टरों द्वारा लिखी जाने वाली सभी दवाइयां का स्टाक पर्याप्त मात्रा में रखने कहा है। इसके बावजूद सप्लाई नहीं पहुंचने की स्थिति में स्थानीय स्तर पर खरीदीकर दवाईयों की व्यवस्था की जाएगी, जिससे इलाज के लिए आने वाले मरीजों को दवाइयों के लिए बाजार में भटकना न पड़े।

वृद्ध और दिव्यांगों के लिए अस्पतालों में बनेंगे रैंप
कलेक्टर अस्पतालों में बायोमेडिकल वेस्ट के निपटारे की व्यवस्था करने के लिए भी कहा। उन्होंने बीएमओ से कहा कि अस्पतालों में मरीजों के लिए साफ पानी और स्वच्छ टायलेट की व्यवस्था की जाए। सभी अस्पतालाें में वृद्ध और दिव्यांग मरीजों को परेशानी से बचाने के लिए रैंप बनाने के लिए कहा, वहीं किसी अनहोनी से बचने के लिए उन्होंने हॉस्पिटल परिसर में फायर फाइटिंग की व्यवस्था करने पर जोर दिया। उन्होंने इसके लिए होम गार्ड कमांडेंट को अस्पतालों का निरीक्षणकर प्रपोजल तैयार करने के लिए कहा है। प्रपोजल की समीक्षा करने के लिए सुरक्षा संबंधी सारी व्यवस्था की जाएगी ताकि आग लगने की स्थिति में इससे आसानी से निपटा जा सके।

खबरें और भी हैं...