नवोदय स्कूल के स्टूडेंट्स में ओमिक्रॉन का डर:रायगढ़ में 3 दिन में 23 बच्चे कोरोना संक्रमित मिले; जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा जाएगा सैंपल

रायगढ़5 महीने पहले

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ स्थित नवोदय स्कूल के 7 और बच्चों की रिपोर्ट RT-PCR टेस्ट में पॉजिटिव आई है। इसके साथ ही 3 दिन में 23 स्टूडेंट कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। अब इन बच्चों पर ओमिक्रॉन के खतरे का डर मंडरा रहा है। तेजी से फैले संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग संक्रमित बच्चों में से 5 फीसदी के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भुवनेश्वर भेजेगा। फिलहाल सभी संक्रमित बच्चों में सामान्य लक्षण दिखाई दे रहे हैं।

भुपदेवपुर स्थित नवोदय स्कूल में सभी 343 स्टूडेंट के सैंपल लिए गए थे। इन सभी की रिपोर्ट आ चुकी है। संक्रमित गर्ल्स और बॉयज स्टूडेंट्स को अलग अलग हॉस्टल में रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, स्टूडेंट्स को निगरानी में रखा गया है। वहीं टीचरों व अन्य स्टाफ के भी सैंपल लिए गए हैं। उनकी रिपोर्ट भी निगेटिव आई है। हालांकि पूरे इलाके को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। प्रदेश में रायगढ़ में सबसे ज्यादा एक्टिव केस भी हैं।

स्वास्थ्य विभाग ने जताई नए वैरिएंट की आशंका

प्रभारी डीपीएम डॉ. योगेश पटेल ने बताया कि भुपदेवपुर स्थित नवोदय स्कूल में आए पॉजिटिव स्टूडेंट्स की सैंपल को ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भुवनेश्वर भेजा जा रहा है। जिस तरह से बच्चों में यह संक्रमण फैला है, उसमें नए वैरिएंट ओमिक्रॉन होने की आशंका है। केंद्र ने भी रेंडेमली ऐसे सैंपल भेजने के लिए कहा है। वहीं शिक्षा विभाग के अफसरों के मुताबिक, संक्रमित स्टूडेंट्स में से एक के अभिभावक भी पॉजिटिव आए हैं।

पेरेंट्स से मिलने के बाद‎ बीमार पड़ी तीन छात्राएं‎

CMHO डॉ. एसएन केशरी ने‎ बताया कि स्टूडेंट्स के पेरेंट्स हर‎ रविवार को मिलने के लिए स्कूल‎ के हॉस्टल में आते हैं। 5 दिन पहले कई अभिभावक हॉस्टल आए‎ थे। उसमें से एक अभिभावक‎ संक्रमित मिली है। उनके ही संपर्क में‎ आकर तीनों छात्राओं को सर्दी,‎ खांसी, बुखार हुआ। एहतियातन‎ सभी स्टूडेंट्स का‎ एंटीजन टेस्ट कराया तो पॉजिटिव मिले। ऐसे में देर शाम को‎ स्वास्थ्य विभाग की टीम ने हॉस्टल में जांच शुरू की। सुबह फिर टीम को वहां भेजा गया।

10वीं से 12वीं के एक लाख स्टूडेंट्स को फरवरी से टीका
कोविड वैक्सीनेशन में अब 15 से‎ 18 साल के बच्चों को 3 जनवरी‎ से टीका लगाया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के मुताबिक, केंद्र की गाइडलाइन के बाद अभी राज्य सरकार से कोई आदेश नहीं मिला है। हालांकि जिले में 15 से 18 साल के करीब 1 लाख बच्चे हैं। माना जा रहा है‎ कि फरवरी के मध्य तक 9वीं‎ से 12वीं तक के छात्रों को‎ टीके की पहली डोज लगा दी जाएगी। वहीं रायगढ़ में 14 नए पॉजिटिव मिले हैं। अब एक्टिव केसों की संख्या 80 हो गई है।

खबरें और भी हैं...