पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राहत की बात:कोरोना संक्रमण की दर घटी, गंभीर मरीज भी कम, केआईटी से हटेगा कोविड केयर सेंटर

रायगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दिसंबर के आखिर तक 4 फीसदी थी, अब जनवरी में 2.4% है संक्रमण की दर

सितंबर और अक्टूबर में कहर बरपाने के बाद कोरोना संक्रमण की रफ्तार धीरे-धीरे कम हुई है। मई से शुरू हुए कोविड संक्रमण की दर दिसंबर के आखिर में 4 प्रतिशत थी लेकिन अब 2.4 फीसदी की दर से मरीज मिल रहे हैं मतलब 100 जांच में लगभग ढाई लोग ही कोविड संक्रमित मिल रहे हैं। अब धीरे-धीरे कोविड केयर सेंटर हटाए जाएंगे। सबसे पहले केआईटी में बने सेंटर को खाली किया जाएगा, भवन वापस कॉलेज को सौंपा जाएगा। अनलॉक और होम आइसोलेशन शुरू होने के बाद शासन ने क्वारेंटाइन सेंटर बंद किए थे अब कोरोना मरीजों की संख्या कम होने और गंभीर मरीज नहीं आने के कारण कोविड केयर सेंटरों को बंद करने की तैयारी की जा रही है। हालांकि एमसीएच और मेडिकल कॉलेज में चल रहा कोविड डेडिकेटेड अस्पताल चलता रहेगा। कुछ दिन पहले सारंगढ़ के सीपीएम कॉलेज बिल्डिंग में बने कोविड सेंटर को भी बंद कर दिया गया था। अब ओडिशा रोड स्थित किरोड़ीमल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (केआईटी) में 450 बेड का सेंटर बंद किया जाएगा। इसमें अटैच डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ को भी वापस भेजने के लिए कह दिया गया है। कलेक्टर भीम सिंह ने गुरुवार को कोविड-19 की रिव्यू मीटिंग में इसके निर्देश दिए थे। कोविड- 19 एमसीएच हॉस्पिटल के प्रभारी डॉ वेद प्रकाश घिल्ले ने बताया कि गंभीर मरीज अभी भी आ रहे हैं हालांकि संख्या कम हुई है।

केआईटी में 21 संक्रमितों का चल रहा इलाज
केआईटी में कोविड सेंटर को पांच माह पहले कोरोना संक्रमित मरीज बढ़ गए थे, तब मेडिकल कॉलेज की नई बिल्डिंग हॉस्पिटल तैयार करने के बाद इंजीनियरिंग कॉलेज को भी लिया था। अब यहां सिर्फ 21 मरीज बच गए है, गुरुवार से यहां पर नए मरीजों की भर्ती बंद की गई है। तीन दिनों के भीतर बचे मरीजों को डिस्चार्ज करने के बाद भवन इंजीनियरिंग कॉलेज प्रबंधन को सौंपा जाएगा। कोविड सेंटर में 6 आयुर्वेदिक डॉक्टरों, 21 मेडिकल स्टाफ को वापस ब्लॉकों मुख्यालयों के सीएचसी और पीएचसी सेंटरों में वापस भेजा जाएगा।

अब कम होने लगा है कोरोना का कहर
दिसंबर के अंतिम सप्ताह तक साढ़े 3 से 4 फीसदी तक रहा था अब संक्रमण दर 2.4 फीसदी तक रह गया है। पिछले 15 दिनों में रोजाना मिलने वाली मरीजों की संख्या 100 से कम रही है। औसतन 2 हजार लोगों की जांच हो रही है लेकिन मरीज कम मिल रहे हैं। कोरोना संक्रमण से 22 से 28 दिसंबर तक 11 लोगों की मौत हुई थी, 30 दिसंबर से 9 जनवरी के 11 दिनों के बीच 9 लोगों की मौत हुई है।

नए संक्रमितों की भर्ती नहीं
"केआईटी के कोविड सेंटर में अब कम मरीज रह गए हैं, इसलिए उसे खाली किया जा रहा है। वहां नए संक्रमित भर्ती नहीं किए जा रहे हैं। मेडिकल कॉलेज और एमसीएच 200 बेड हॉस्पिटल चलता रहेगा। मरीजों की लिए पूरी व्यवस्था है, गंभीर मरीज की देखभाल विशेषज्ञ चिकित्सक करते रहेंगे।''
-डॉ. एसएन केशरी, सीएमएचओ

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें