धरमजयगढ़ में 79 हाथी:छाल में उजाड़ रहे फसल

रायगढ़/एड़ू2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भीषण गर्मी सिर्फ इंसानों को तकलीफ नहीं दे रही, पानी और भोजन नहीं मिलने से परेशान हाथी भी जंगल से भटककर बस्ती में आ रहे हैं। धरमजयगढ़ वन मंडल में 79 हाथी 14 ग्रुप में घूम रहे हैं। छाल के बनहर गांव में पिछले दो-तीन से हाथियों का आतंक है। शाम होते ही हाथी गांव में पहुंच रहे हैं। खेतों में खड़ी फसल बर्बाद करने के साथ जमकर नुकसान पहुंचा रहे हैं। वन ‌विभाग गांवों में मुनादी करा रहा है ताकि जनहानि ना हो। धरमजयगढ़ डीएफओ अभिषेक जोगावत ने बताया कि धरमजयगढ़ डिवीजन में कुल 79 हाथी हैं।

छाल रेंज मे 30 हाथी 6 ग्रुप में हैं, धरमजयगढ़ रेंज मे 28, कापू में 10, बोरो में 6 हाथी हैं। वहीं बाकारूमा में एक हाथी घूम रहा है। हम ट्रैक कर रहे हैं। हाथियों की मौजूदगी वाले इलाकों में मुनादी कराते हैं ताकि ग्रामीण सजग और सचेत रहें। खेत में लगा पंप तोड़, पाइप को ठोकर मारते ले गए। छाल रेंज में इन दिनों गर्मी के धान की फसल के साथ खेतों में मूंगफली लगी है। शाम ढलते ही गांवों में हाथी पहुंचते हैं। छाल के बनहर सर्किल मे संतोष राठिया नामक किसान ने बताया कि उनके खेत में बोर चल रहा था। हाथी पहुंचे, पानी पीने के बाद हाथियों ने पंप तोड़ दिया। पास रखे पाइप के बंडल को लतियाते हुए दूर तक ले गए। गुरुवार को 14 हाथियों के दल के की उपस्थित छाल रेंज में बताई गई है। हाथी बांसाझार, जामपाली, किदा, बेहरामार, खर्रा जोगड़ा गांवों में घूम रहे हैं।

खबरें और भी हैं...