दुर्घटना / चलती बस में ड्राइवर को हार्ट अटैक, कार को टक्कर मारते हुए ट्रांसफार्मर से टकराई

Driver attacks heart in moving bus, bus collides with transformer while hitting car
X
Driver attacks heart in moving bus, bus collides with transformer while hitting car

  • अस्पताल पहुंचने से पहले ड्राइवर की मौत

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

रायगढ़. मंगलवार सुबह 7.15 बजे एक बड़ा हादसा टल गया। एक प्लांट की चलती स्टाफ बस में ड्राइवर को हार्ट अटैक आया तो लहराती हुई बस खड़ी कार को टक्कर मारती हुई ट्रांसफार्मर से जा टकराई। स्टाफ ने किसी तरह ब्रेक मारकर स्टेयरिंग संभाल लिया नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था, हालांकि हादसे के बाद अस्पताल पहुंचने से पहले ही ड्राइवर की मौत हो गई। 
जूट मिल गौरवपथ पर सुश्री होटल के नजदीक सुबह दिल दहलाने वाला हादसा हुआ। सुबह होने के कारण सड़क पर ज्यादा भीड़ नहीं थी। ज्यादातर दुकानें भी बंद थीं। इंड सिनर्जी के स्टाफ के लिए वाधवा ट्रैवल्स की बस गौरवपथ से गुजर रही थी। बस में एक प्लांट कर्मी और एक स्टाफ था। बस कंपनी के सुरेंद्र वाधवा ने बताया कि ड्राइवर रमाशंकर मिश्रा गाड़ी चला रहे थे। प्रत्यक्षदर्शी विक्की बसंल ने बताया कि सुश्री होटल के पास कंस्ट्रक्शन मेटेरियल सप्लायर विजय अग्रवाल की सेंट्रो कार खड़ी हुई थी। 
अचानक बस लहराती हुई आई और कार को टक्कर मारती हुई लगभग 25 मीटर तक घसीटती हुई सड़क के किनारे सुश्री होटल के नजदीक बने ट्रांसफार्मर से जा टकराई। बस की स्पीड ज्यादा नहीं थी। आसपास की दुकानें भी क्षतिग्रस्त हुई हैं। जब हादसा हुआ तो आसपास में चाय, पान ठेले और होटल खुल ही रहे थे। अगर थोड़ी देर से ऐसा हादसा होता तो कई लोगों की जान जा सकती थी क्योंकि यहां पर 8.30 बजे के बाद से भीड़ लगती है। हादसे के वक्त कुछ लोग खड़े थे लेकिन बस की रफ्तार ज्यादा नहीं होने के कारण लोगों को संभलने का मौका मिल गया। हादसे के बाद लोगों की भीड़ जमा हो गई। लोगों ने सूचना देकर पुलिस को बुलाया। सामने ही जूट मिल चौकी है। ड्राइवर के बेसुध होने से स्टाफ ने बस संभाली। उसे चोट आई। पुलिस ने एंबुलेंस बुलाकर ड्राइवर और स्टाफ को तुरंत अस्पताल भिजवाया।

इसलिए हुआ हादसा 
बस ओडिशा रोड पर पार्क सिटी के आसपास प्लांट कर्मचारियों को लेने जा रही थी। वाधवा ट्रैवल्स के संचालक के मुताबिक ड्राइवर रमाशंकर डायबिटिक (मधुमेह का रोगी) था। उसे पहले कभी भी हार्ट अटैक या हृदय से संबंधित कोई तकलीफ नहीं थी। बस चलाते वक्त शायद उन्हें हार्ट अटैक हुआ और बस बेकाबू हो गई। व्यस्त सड़क होने के कारण रफ्तार पहले ही धीमी थी, ड्राइवर के साथ बैठे स्टाफ ने बस को संभाल भी लिया। हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ लेकिन हार्ट अटैक का इलाज मिलने से पहले ही ड्राइवर की मौत हो गई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना