पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कलेक्टर ने जिम्मेदार अफसरों पर कार्रवाई के निर्देश दिए:4 माह बाद भी गोबर का पैसा नहीं मिला दो अफसरों पर कार्रवाई की अनुशं‌सा

रायगढ़13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गोधन न्याय योजना के तहत गोबर बेचने के चार महीने बाद भी गो पालकों के खाते में राशि नहीं आने का मामला सामने आया है। तीन विभागों में आपस में सामंजस्य नहीं होने के कारण ऐसी स्थिति बनी। कलेक्टर ने जिम्मेदार अफसरों पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। गोबर बेचने के बाद लाभार्थी के खाते में रुपए ट्रांसफर होते हैं, दिसंबर तक इसकी मॉनिटरिंग काम जनपद पंचायत स्तर पर हो रही थी।

इसके बाद मॉनिटरिंग और किसानों के पैसों के हस्तांतरण काम कृषि विभाग को दिया गया। जपं की मॉनिटरिंग के दौरान 7 गौठानों में 150 से ज्यादा गोबर बेचने वाले किसानों के खातों में सात लाख 35 हजार रुपए डाले जाने थे। रायगढ़ के ननसिया, लेबड़ा, सहसपानी, बरलिया और लैलूंगा के सोनाजोरी और पाकरगांव के किसानों के खातों में रुपए नहीं डाले गए। बैंक प्रबंधन और जपं स्तर पर जो बजट मिला, खातों में एक सामान रूप से पैसे का हस्तांतरण नहीं किया गया। कुछ राशि गौठानों समितियों के खातों में भी डाले जाने की बात सामने आई है, अपेक्स बैंक अफसरों ने भी इसकी मॉनिटरिंग नहीं की। 7.35 लाख में 4.12 लाख रुपए एक- दो दिन में किसानों के खातों में डलवा दिए गए। अभी 3.23 लाख रुपए ट्रांसफर नहीं हो सके। सहकारिता विभाग के उप पंजीयक सुरेन्द्र गौड़ ने बताया कि जनपद और बैंक स्तर पर मॉनिटरिंग में कुछ कमी रह गई थी।

जिम्मेदार अफसरों ने नहीं की मॉनिटरिंग
अपेक्स बैंक के विशेष कर्तव्य अधिकारी और सहकारिता विभाग के उप पंजीयक ने मॉनिटरिंग नहीं की। कलेक्टर भीम सिंह ने भी इन दोनों अफसरों पर कार्रवाई की अनुशंसा करते हुए शासन को पत्र भेजने की बात कही है। मामला मंगलवार को कलेक्टर समय सीमा बैठक में उठा था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें