पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टैक्स जमा करने की तैयारी पूरी:संपत्ति कर देनेे निगम जाएं तो पुरानी पर्ची रखें नहीं तो 1997 से अब तक का देना होगा टैक्स

रायगढ़13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 2011 से पहले का रिकॉर्ड ही नहीं नगर निगम के पास, 1 अप्रैल से ऑनलाइन करने की तैयारी

प्रदेश के 14 नगर निगम में जल और प्रापर्टी टैक्स 1 अप्रैल से घर बैठे जमा करने की तैयारी की गई है। रायगढ़ नगर निगम में पुराने रिकार्ड ही नहीं मिल रहे हैं। ऐसे में ऑनलाइन व्यवस्था के साथ ही निगम ये टैक्स ऑफलाइन भी लेगा। अभी निगम के पास ज्यादातर भवनों के रिकॉर्ड नहीं हैं, पुरानी पर्ची लिए बिना कोई टैक्स पटाने जाए तो उससे 196-97 से टैक्स लेते हैं। रायगढ़ निगम ने ऑनलाइन टैक्स जमा करने के लिए तैयारी शुरू भी कर दी है। 92 प्रतिशत लोगों के नाम की इंट्री कर ली गई है लेकिन उनका टैक्स रिकॉर्ड अपडेट नहीं किया गया है। राजस्व विभाग के कर्मचारियों के अनुसार वे अप्रैल से ही लोगों का ऑनलाइन टैक्स लेना शुरू कर देंगे। प्रक्रिया पुरानी ही रहेगी। टैक्स जमा करने के लिए आपको पुराने रसीदी की कॉपी भी साथ लानी होगी।

पुरानी पर्ची नहीं तो जमा नहीं होगा टैक्स उदाहरण के लिए यदि आपने 2011 तक का टैक्स जमा किया है। टैक्स जमा करने के बाद रसीद किसी कारणवश आपसे खो जाती है। तब ऐसी स्थिति में आपको निगम में धूल खाती फाइलों में आपका टैक्स रिकॉर्ड ढूंढना पड़ेगा। आपके पास पुरानी रसीद हो तभी कैलकुलेशन के आधार पर आपका टैक्स जमा किया जाएगा। यदि आपके पास पुरानी रसीद नहीं है तो निगम मनमाने ढंग से वसूली करेगा।

1997 के पूर्व का टैक्स पटाने दे रहे थे नोटिस
कुछ दिनों पहले ही वार्ड क्रमांक 14 में मोहर्रिर ने टैक्स पटाने के लिए एक बकाएदार को नोटिस दिया था। नोटिस भी 1997 से टैक्स पटाने का दिया गया। जबकि भूमि स्वामी का आरोप था कि उन्होंनें 2011 तक का टैक्स जमा कर दिया है। ऐसे में वार्ड पार्षद अनुपमा यादव ने आपत्ति दर्ज की थी। इसके बाद महापौर ने रेवेन्यू विभाग को अपने रिकार्ड दुरुस्त करने के निर्देश दिए थे।

फैक्ट फाइल

  • निगम क्षेत्र में घर- 36 हजार (4 हजार व्यवसायिक संस्थान)
  • हर साल राजस्व वसूली-23 करोड़
  • इस साल का टारगेट-28 करोड़
  • संपत्ति कर- 12.70 करोड़
  • समेकित कर-4.49 करोड़
  • जलकर-3.80 करोड़
  • दुकान-1.11 करोड़
  • अन्य-6 करोड़

(मार्च 2021 तक का लक्ष्य )

मोहर्रिर पुराने बाबू से मिलने की देते हैं सलाह - वार्डों को अलग-अलग मोहर्रिर के हिस्से में बांटा गया है। कुछ मोहर्रिर से भास्कर ने बात की। किसी के पास 2016 तक का रिकार्ड है तो किसी के पास 2011 तक की जानकारी उपलब्ध है। हमने कुछ वार्डो के लोगों के नाम बताकर उनका बकाया टैक्स पूछा। इस पर बाबूओं ने पुरानी फाइल देखने के लिए दूसरे बाबू के पास जाने की सलाह दी। आम व्यक्ति को हर रोज इसी तरह से अपना टैक्स जमा करने के लिए भटकना पड़ रहा है।

कुछ सेवाएं हैं ऑनलाइन
"रायगढ़ नगर निगम पहले से ही कई सेवाओं को ऑनलाइन कर चुका है। कुछ सेवाएं बाकी है। जिन्हें कुछ दिनेां में ही ऑनलाइन कर लिया जाएगा। कुछ समस्याएं हैं तो उन्हें पूरी तरह सुधारा भी जा सकता है। एमआईसी इसके लिए स्वयं सक्षम है। हम अपने स्तर पर ही सारी गलतियों को सुधार सकते हैं।''
-आशुतोष पांडेय, आयुक्त, नगर निगम

पुराना बकाया अपडेट हो
"ऑनलाइन होने पर लोगों को काफी राहत मिलेगी, लेकिन यदि पुराना बकाया अपडेट नहीं हुआ तो ऑनलाइन का कोई लाभ नहीं होगा।''
-सलीम नियारिया, राजस्व प्रभारी, नगर निगम

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

    और पढ़ें