लॉकडाउन 4 / कल से खुलेंगे बोईरदादर इंडस्ट्रियल एरिया के उद्योग

Industries of Boirdadar Industrial Area will open from tomorrow
X
Industries of Boirdadar Industrial Area will open from tomorrow

  • खरसिया, सारंगढ़ सहित सभी ब्लाॅक की इंडस्ट्री में काम होगा शुरू

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

रायगढ़. शहर के बोईरदादर स्थित इंडस्ट्रियल एरिया के उद्योग सोमवार से खुलेंगे। लॉकडाउन-3 में शहर के बाहर उद्योगों को खोलने की अनुमति दी  गई थी, लेकिन नगरीय निकाय क्षेत्र में स्थित सूक्ष्म और लघु औद्योगिक इकाइयों में काम बंद था। दो महीने से भी अधिक समय के बाद वहां अब रौनक लौटेगी। शहर के अलावा खरसिया, सारंगढ़ सहित अन्य ब्लॉक के उद्योग भी खुलेंगे। 
शहर के इंडस्ट्रियल एरिया के 50 उद्योग है, जिसमें फैब्रिकेशन, फूड प्रोडक्ट, केबल-वायर, इलेक्ट्रिकल, मशीनरी समेत कई तरह के उद्योग हैं। लॉकडाउन-2 में ढील मिलने के बाद यहां के व्यापारी लगातार उसे खोलने की मांग कर रहे थे। इनकी छोटी इकाइयों में हर यूनिट में 25-40 कर्मचारी काम करते हैं। जिले के बड़े उद्योगों में उत्पादन कम हो रहा है। दूसरे प्रदेशों में लॉकडाउन के साथ ही इसकी बड़ी वजह कुशल प्रवासी श्रमिकों की घर वापसी है। 
दुकानों की सप्लाई हो रही थी प्रभावित
इंडस्ट्रियल एरिया के कारोबारी अजय कुमार ने बताया कि यहां पर कांच, मोमबत्ती, अगरबत्ती, केबल, फूड प्रोडक्ट, बर्फ, फ्रैबिकेशन, ऑटो एवं मशीनरी, रिपेयरिंग जैसे कई तरह के काम यहां होते हैं। प्लांट संचालक अनिल अग्रवाल ने बताया कि इंडस्ट्रियल एरिया में बनने वाले ज्यादातर प्रोडक्ट ऐसे हैं जो आम लोगों से जरूरत के होते हैं। इनके उद्योग बंद होने से दुकानों में इन सामानों की सप्लाई नहीं हो पा रही थी, इन सामानों को कारोबारी दूसरे शहरों से सामान मंगवा रहे थे। 
साठ फीसदी कुशल श्रमिक दूसरे प्रदेशों सेेे
स्पंज आयरन एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष संजय अग्रवाल ने बताया कि मध्यम स्तर के उद्योगों में 60 फीसदी श्रमिक दूसरे प्रदेशों के हैं। अब तक जो प्रवासी मजदूर यहां रुके थे, वे अब घर लौट रहे हैं। जिले के उद्योगों में ज्यादातर स्किल्ड यानि कुशल श्रमिक दूसरे राज्यों के हैं। हम उद्योगों में काम करने वाले श्रमिकों को सारी व्यवस्था देने की कोशिश करते हुए समझा रहे हैं कि वे अभी अपने प्रदेश ना लौटें। पूंजीपथरा औद्योगिक पार्क के योगेश अग्रवाल कहते हैं, कुशल श्रमिकों में 10 फीसदी ही बच गए हैं। बाकी सभी लोग अपने घर जा चुके है, इन्हें लौटने में डेढ़ से दो माह समय लगेगा। ये श्रमिक लौटेंगे तो भी तुरंत काम कराना मुश्किल होगा। मजदूरों के लौटने और यूपी, पंजाब में स्थिति सामान्य होने के बाद ही जिले के उद्योगों में काम पहले की तरह हो सकेगा। इसमें तीन-चार महीने के समय लग सकता है।
अगले हफ्ते सारे उद्योग खुल जाएंगे
"इंडस्ट्रियल एरिया के उद्योगों को खोलने का आदेश कलेक्टर ने जारी कर दिया है। अगले हफ्ते से सारे उद्योग खुल जाएंगे, इसके अलावा खरसिया, सारंगढ़ के शहरी क्षेत्र के उद्योग भी खुलेंगे। यहां जरूरी निर्देशों का पालन कराया जाएगा।''
-संजीव सुखदेवे, जीएम, जिला उद्योग केंद्र     

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना