अव्यवस्था का आलम:संक्रमण कम, पर हफ्तेभर में 12 संक्रमित मिले, स्टेशन में बंद हुई कोविड स्क्रीनिंग

रायगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिना रोक-टोक ऐसे ही स्टेशन से बाहर निकल जा रहे यात्री। - Dainik Bhaskar
बिना रोक-टोक ऐसे ही स्टेशन से बाहर निकल जा रहे यात्री।
  • हफ्तेभर से काउंटर में नही बैठ रहे हेल्थ वर्कर्स, बिना जांच यात्रियांे को बाहर निकाल रही आरपीएफ

कोरोना संक्रमण की रफ्तार धीमी हो चुकी है। कोविड मरीज भी कम हुए हैं लेकिन हफ्तेभर में मिले 12 मरीजों‌ में ज्यादातर दूसरे राज्यों से यात्रा कर लौटने वाले लोग हैं। रेलवे स्टेशन में आ रहे यात्रियों की स्क्रीनिंग तो दूर अब इनकी जानकारी भी दर्ज नहीं की जा रही है। डॉक्टर मानते हैं कि त्योहारों पर बड़ी संख्या में दूसरे राज्य व विदेशों से लोग घर लौटते हैं। ऐसे में थोड़ी सावधानी रखने की जरूरत है।

पिछले हफ्ते में जो मरीज मिले हैं उसमें किरोड़ीमलनगर इलाके से ज्यादा हैं। उनकी ट्रैवल हिस्ट्री राज्यों से लौटने की है। अभी ओडिशा, महाराष्ट्र जैसे राज्यों में कोविड के मरीजों मिल रहे हैं। मुंबई-हावड़ा रूट पर और औद्योगिक जिला होने के कारण बाहर से लोगों की आवाजाही ज्यादा है। वैक्सीनेशन के कारण खतरा भले ही कम है लेकिन अभी कोरोना पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। पहले संदिग्ध या लक्षण वालों की स्टेशन पर जांच होती थी। दो डोज वैक्सीन लगवाने लगाने वाले की जांच भी होती थी पर अब सब बंद है। रायपुर, बिलासपुर सहित अन्य स्टेशनों में अभी यह व्यवस्था है।

स्थानीय प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी
आरपीएफ के प्रभारी राजेश वर्मा बताते हैं कि जब भी ट्रेनें आती है तो आरपीएफ के एंट्री गेट पर जवानों की तैनात किया जाता है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा जांच या एंट्री अभी बंद कर दी गई है। अभी फिलहाल कोई जांच पड़ताल नहीं हो रही है। पिछले हफ्ते तक दो कर्मचारी रहते थे, लेकिन वह अब नहीं आ रहे हैं। यह पूरा काम स्थानीय प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अधीन आता है। हम उसमें कुछ नहीं कर सकते हैं।

हफ्ते भर में 12 मरीज

  • 8 अक्टूबर 01
  • 9 अक्टूबर 05
  • 10 अक्टूबर 01
  • 11 अक्टूबर 03
  • 12 अक्टूबर 02
  • 13 अक्टूबर 00

रोजाना 1200 से अधिक टेस्ट
स्वास्थ्य विभाग हर रोज 1200 से अधिक टेस्ट करने की बात कह रहा है। हालांकि छुट्‌टी के दिन शनिवार और रविवार जैसे दिनों में सैंपलिंग कम लिया जाता है। अभी शहर में चांदमारी और नगर निगम के ऑडिटोरियम में सैंपल लिया जाता है। पुराने सारंगढ़ बस स्टैण्ड में सैंपलिंग सेंटर को बंद किया गया है। जिले के सारे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी जांच होती है।

स्टेशन में काउंटर के बंद होने की जानकारी नहीं
रेलवे स्टेशन में बाहर से आने वाले यात्रियों की जानकारी रखने और कोविड जांच करने काउंटर बंद होने की जानकारी नहीं है। शहरी स्वास्थ्य कार्यक्रम अधिकारियों से रिपोर्ट लेंगे।''
-डॉ योगेश पटेल, प्रभारी डीपीएम

खबरें और भी हैं...