पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ब्लड स्टोर करने के लिए बैग नहीं:पाउच की कमी, ब्लड डोनेट नहीं कर पा रहे हैं लोग

रायगढ़7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के ब्लड बैंक में छह दिन से ब्लड स्टोर करने के लिए बैग नहीं है। इसकी कमी से डोनर ब्लड डोनेट नहीं कर पा रहे हैं। बैंक में ब्लड की कमी होने से बहुत इमरजेंसी में ही इसे मरीजों को उपलब्ध कराया जा रहा है। रेयर ग्रुप के ब्लड का स्टॉक खत्म हो गया है।

स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के अनुसार अगर शीघ्र ही ब्लड डोनेशन शुरू नहीं हुआ तो बी और ओ पॉजिटिव ग्रुप का ब्लड भी सोमवार या मंगलवार तक खत्म हो जाएगा। हालांकि एडमिनिस्ट्रेटिव अफसर ने कहा हैं कि एक- दो दिनों में यह बैग्स रायपुर से आ जाएंगे। हर 15-20 यूनिट की खपत वाला बी पॉजिटिव ग्रुप का ब्लड बैंक में सिर्फ 50 यूनिट उपलब्ध है। वर्तमान में ब्लड बैंक में जो भी लोग आ रहे है, उनके नाम, मोबाइल नंबर और ब्लड ग्रुप का डिटेल लिया जा रहा है ताकि बैग की उपलब्धता होने पर उनसे ब्लड डोनेट कराया जा सके। मेकाहारा में पहली बार ऐसा हो रहा हैं कि ब्लड डोनेशन के लिए बैग ही नहीं है। कर्मचारी बताते हैं कि उन्हें बैग कॉलेज के स्टोर से मिलता है। वहां ही पिछले हफ्ते भर से बैग नहीं है। डोनर हर रोज 25-30 यूनिट ब्लड डोनेट करने आते है, लेकिन अभी के समय में इमरजेंसी केस में डॉक्टर्स इमरजेंसी हालात को देखते हुए रिक्यूजिशन सर्टिफिकेट बनाकर देते है, तब ही ब्लड मरीज को मिल पाता है।

नागपुर से होती है सप्लाई
हॉस्पिटल अधीक्षक डॉ. मनोज मिंज ने बताया कि डोनेशन बैग वेंडर नागपुर से मंगवाता है। वहां पर ही वह उपलब्ध नहीं है, हमने वेंडर को 30 अगस्त को ही आर्डर दिया था, लेकिन अभी तक नहीं आ सका है। वेंडर से बातचीत भी चल रही है। बैग मिलने के बाद ब्लड डोनेशन के साथ इमरजेंसी ब्लड भी देना भी शुरू कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...