पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

किसानों की चिंता:जुलाई के पहले हफ्ते बारिश कम, बुआई पर असर

रायगढ़18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में अब तक औसत बारिश अच्छी है लेकिन जुलाई के पहले हफ्ते में हुई बारिश चार साल में सबसे कम है। इससे खरीफ फसल की बोनी प्रभावित हुई है। अब तक 56.63 प्रतिशत रकबे पर बोनी हो सकी है। एक लाख 45 हजार हेक्टेयर जमीन पर बोनी होनी है लेकिन अभी सिर्फ 82 हजार 400 हेक्टेयर जमीन बोनी हो सकी है। धान की बुआई के लिए अभी लगातार बारिश होने की जरूरत है।

बुधवार शाम एक घंटे तक बारिश हुई। इससे किसानों को थोड़ी राहत मिली है। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार 13-14 जुलाई के बाद तेज बारिश हो सकती है। बारिश के 10 साल के आंकड़ों को देखें तो मानसून का आमद के बाद जुलाई के पहले हफ्ते में बारिश ज्यादा होती है लेकिन इस साल मई में बेमौसम के बाद मानसून भी समय पर आया लेकिन जुलाई के पहले हफ्ते में मौसम दगा दे रहा है।

बारिश की जरूरत अभी ज्यादा

कृषि विभाग के सहायक संचालक अजय जायसवाल ने बताया कि अभी खुर्रा बोनी होती है, इसके लिए बारिश की जरूरत पड़ती है। जहां पर जलाशय या पानी साधन नहीं रहते है लोग बारिश के पानी से बीज डालकर रोपाई करते हैं। यदि पानी नहीं मिलता है तो बीज खराब होने लगते हैं। अभी हफ्ते भर के भीतर बारिश नहीं होती है तो नुकसान हो सकता है। हालांकि अभी उड़द, मूंग जैसी फसल लगाने सही समय है। अभी 41 फीसदी दलहन- तिलहन जैसे फसलों में बुआई हुई है।

अगले हफ्ते से अच्छी बारिश होगी, अभी उम्मीद कम

छत्तीसगढ़ के मध्य में अभी ऐसा कोई सिस्टम नहीं बना है जिससे अभी अच्छी बारिश हो। बंगाल की खाड़ी में एक सिस्टम बन रहा है। लेकिन उसका असर अगले हफ्ते तक देखने को मिलेगा। उसमें 14 जुलाई के आसपास अच्छी बारिश हो सकती है। इससे पहले अभी हल्की से मध्यम बारिश होगी, अभी लगातार बारिश उम्मीद नहीं है।'' -डॉ एचपी चन्द्रा, मौसम विशेषज्ञ, मौसम विज्ञान केन्द्र रायपुर

खबरें और भी हैं...