पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परेशानी:बारदाना नहीं इसलिए खरीदी प्रभावित, पूरा धान नहीं बेच पा रहे हैं किसान, हो रहा विवाद

रायगढ़3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 35 रुपए में मार्केट से बारदाना खरीद रहे हैं किसान, मिलर्स से जो बोरे मिले उनमें अधिकांश खराब

धान खरीदी के बीच जिले में बारदाने का स्टॉक खत्म हो गया है। उपार्जन में धान बेचने के लिए किसानों को बाजार से 35 रुपए में बारदाना खरीदना पड़ रहा है। बारदाने की कमी के कारण समितियों में विवाद की स्थिति बन रही है। पीडीएस दुकान और मिलर्स से मिले बारदानों में धान खरीदने कहा जा रहा है लेकिन मिलर्स से जो बारदाने मिल रहे हैं उसमें 60 फीसदी से ज्यादा बारदाने फटे हुए मिल रहे हैं। जिले में 90 फीसदी धान खरीदी हो चुकी है, 10 दिन शेष रह गए हैं। बुधवार को लोइंग, बिंजकोट सोसाइटियों में भास्कर की टीम ने स्थिति देखी। लोइंग में पिछले एक हफ्ते से बारदाना नहीं होने के कारण परेशानी बनी हुई है। बुधवार को जिले की कई सोसाइटियों में बारदाने खत्म हो गए। विपणन विभाग के पास दो दिन पहले करीब डेढ़ लाख बोरे थे, लेकिन मंगलवार की शाम को यह स्टॉक खत्म हो गया। इन समितियों में नहीं हैं बारदाने- बुधवार शाम को धरमजयगढ़ ब्लॉक के धरमजयगढ़ ग्रामीण, जम्हरीडीह, छाल, खड़गांव, रायगढ़ के कछार, लोइंग, बरमकेला के कालाखूंटा जैसे उपार्जन केंद्रों में बारदाना नहीं था। समितियों ने बारदाने मांगे तो मार्कफेड ने खुद इंतजाम करने की बात कही।

दोपहर 2 बजे: लोइंग में बारदाने खत्म, पूरा धान नहीं बिका तो वापस ले जाना पड़ा
लोइंग उपार्जन केंद्र में धान खरीदी के लिए पिछले एक हफ्ते से बारदाने नहीं हैं। किसानों को 30 रुपए में धान खरीद कर लाना पड़ रहा है। बुधवार को यहां पर बारदाने नहीं होने और खरीदी पूरी नहीं हो पाने के बाद विवाद की स्थिति बन गई है। विधायक प्रकाश नायक को यहां पहुंचना पड़ा, किसानों को बारदाने उपलब्ध कराने का आश्वासन देकर शांत कराया। साल्हेओना के गौतम बेहरा ने बताया कि पिछले साल तक 42 क्विंटल धान बेचते रहे इस साल सिर्फ 15 क्विंटल धान खरीदा गया। एक बोरा 35 रुपए में खरीदना पड़ रहा है। जुर्डा के ठंडा राम भोई ने बताया कि वे 35 क्विंटल धान बेच नहीं पाए, वापस ले जाना पड़ा। पिछले 10 वर्षों से पूरा धान बेचते थे। पहली बार पूरा धान नहीं बेच पा रहे हैं।

दोपहर 3 बजे: बिंजकोट में मिलर्स के दिए 1 हजार बोरे खराब निकले
बिंजकोट सोसाइटी में 14 हजार क्विंटल धान की खरीदी होनी है। अभी 22 सौ क्विंटल खरीदी शेष है। यहां मिलर्स ने एक हजार से ज्यादा बोरे भेजे हैं लेकिन बारदाने फटे हुए हैं। प्लास्टिक और जूट के बोरे में 22 सौ क्विंटल धान खरीदा जाना है। बोरे की कमी को देखते हुए दूसरी सोसाइटी से बोरे मंगवाए थे, एक हजार बारदाने सोसाइटी वापस करना पड़ा। बारदाने नहीं होने के कारण सोसाइटी में खरीदी कम हुई है। हालांकि यहां किसानों की संख्या कम होने की वजह से ज्यादा परेशानी नहीं दिखी।

रकबा संशोधन करवाने वाले किसान आज से बेच सकेंगे धान
रकबा संशोधन करवाने वाले किसान गुरुवार से खरीदी केंद्रों में धान बेच सकते हैं। खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर धान उपार्जन के संबंध में किसानों के रकबा संशोधन संबंधी आवेदन के निराकरण का कार्य राजस्व व खाद्य विभाग द्वारा पूरा कर लिया गया है। जिससे रकबा संशोधन करवाने वाले किसान 14 जनवरी उपार्जन केंद्रों में धान बेच सकेंगे।

बारदाने आए, आज से डिलीवरी होगी
"जिले में अभी 42 लाख से क्विंटल से अधिक धान की खरीदी हो चुकी है, अब खरीदी कई सोसाइटियों में अंतिम चरण में चल रही है। जिन भी सोसाइटियों में बारदाने खराब मिल रहे हैं। उसमें सोसाइटियों के लोगों को ध्यान देना चाहिए। अमानक बारदानों की एंट्री अभी बंद हो गई है। जहां भी बारदाने खराब आ रहे है उसे पहले सोसाइटी के लोग देख ले इसके बाद उसे उतारे, कई जगहों में ऐसा हो भी रहा है। नए बारदाने आज आ गए हैं। कल (गुरुवार) से हम डिलीवरी शुरू करेंगे।''
-एसके गुप्ता, डीएमओ

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser