यात्रियों की परेशानी:हावड़ा वाली ट्रेनों में नो रूम, बिहार रूट में लंबी वेटिंग

रायगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हावड़ा और बिहार रूट की ट्रेनों में होली के पहले 28 मार्च तक यात्रियों को बर्थ नहीं मिल रही है। लोग लगातार टिकट बुक करा रहे हैं। कोरोना के कारण ट्रेनों में कंफर्म सीट के बिना यात्रा पर मनाही है। काउंटर से टिकट नहीं दिया जा रहा है, कंफर्म बर्थ के लिए मारामारी हो रही है। होली में हर साल शहर की जनसंख्या का एक बड़ा हिस्सा बिहार और बंगाल के लिए ट्रेनों के टिकट बुक कराता है।

इसलिए हर बार ट्रेनों में होली से ही प्रतीक्षा सूची लंबी हो जाती है। कोरोना के कारण सारी ट्रेनें शुरू नहीं हो पाई हैं वहीं बिहार व हावड़ा रूट पर होली स्पेशल ट्रेन भी नहीं है। ट्रेनों की कमी के कारण लंबी प्रतीक्षा सूची है। हावड़ा रूट पर नो-रूम है वहीं बिहार रूट की ट्रेनों में भी कंफर्म टिकट नहीं मिल रहा है।

रायगढ़ से हावड़ा- 02833

  • दिन स्लीपर सेकंड क्लास
  • 24 मार्च 42 नो-रूम
  • 25 मार्च 55 नो रूम
  • 26 मार्च 76 नो-रूम
  • 27 मार्च 102 नो-रूम
  • 28 मार्च 85 नो-रूम
  • (यही स्थिति हावड़ा मेल में भी है।)

रायगढ़ से पटना- 03287

  • दिन स्लीपर सेकंड क्लास
  • 24 मार्च 58 43
  • 25 मार्च 84 44
  • 26 मार्च 101 53
  • 27 मार्च 96 68
  • 28 मार्च 45 32

(इन टिकट के कंफर्म होने के चांस बेहद कम हैं)

रायगढ़ से हावड़ा रूट एक किराया अलग
02259 सीएसएमटी
स्लीपर - 370
थर्ड एसी - 965

02905 फेस्टिवल स्पेशल
स्लीपर - 475
थर्ड एसी - 1230

120 प्लेटफार्म टिकट बिके

​​​​​​ रविवार को रेलवे ने नई दरों पर प्लेटफार्म टिकट यात्रियों को दिए। सुबह से रात 8 बजे 120 प्लेटफार्म टिकट बिक चुके थे। जिससे रेलवे को 3600 रुपए की कमाई हुई। प्लेटफार्म टिकट महंगे करने के पीछे प्लेटफार्म पर लगने वाली अनावश्यक भीड़ को कम करना बताया जा रहा है, हालांकि कोरोना के बाद प्लेटफार्म पर भीड़ कम हुई है।

खबरें और भी हैं...