1000 बेड के लक्ष्य के करीब:कलेक्टर ने कहा- जिले में अब 1500 ऑक्सीजन बेड की है तैयारी

रायगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोविड केयर सेंटर की व्यवस्था का जायजा लेते कलेक्टर भीम सिंह। - Dainik Bhaskar
कोविड केयर सेंटर की व्यवस्था का जायजा लेते कलेक्टर भीम सिंह।
  • फ्लोमीटर के लिए देशभर के मेडिकल उपकरण डीलर, आईएएस के अपने बैचमेट से बात कर रहे हैं कलेक्टर

जिला प्रशासन ने कोरोना संक्रमण से लड़ने तेजी से इंतजाम किए हैं। संक्रमण की रफ्तार बढ़ने के साथ ही जिले में 300 अतिरिक्त आक्सीजन बेड्स तैयार किए गए। निजी अस्पतालों में भी ऑक्सीजन बेड की क्षमता बढ़ाई जा रही है। अभी 550 ऑक्सीजन बेड पाइपलाइन और 150 सिलेंडर से शुरू कर दी गई है। ऑक्सीजन फ्लोमीटर आते ही अगले कुछ दिनों में 200 बेड की सुविधा भी मिलने लगेगी। कलेक्टर भीम सिंह ने बताया, हम 1000 ऑक्सीजन बेड शुरू करने के अपने लक्ष्य के करीब हैं।

कलेक्टर भीम सिंह व्यवस्था पूरी करने खुद जुटे हुए हैं। अस्पताल प्रबंधन और डॉक्टरों से लगातार बैठक कर फीडबैक लेने के साथ ही जरूरी मेडिकल उपकरण की व्यवस्था करने वे खुद देशभर के डीलरों से बात कर रहे हैं। कलेक्टर भीम सिंह फ्लोमीटर की व्यवस्था करने दिल्ली, मुंबई, तमिलनाडू, ओडि़शा में अपने बैचमेट आईएएस अफसरों से संपर्क साध रहे हैं। 100 नग फ्लोमीटर मुंबई से डिस्पैच होकर पहुंचेगा। उन्होंने बताया कि गुरुवार रात तक 100 नग फ्लोमीटर मुम्बई से आ जाएंगे।

इसके साथ ही अगले सप्ताह 800 फ्लोमीटर की आपूर्ति और होगी। कलेक्टर कहते हैं, यह वक्त असाधारण हैं और प्रयास भी अलग करने होंगे। उन्होंने कहा, रायगढ़ में अब पर्याप्त ऑक्सीजन बेड्स हैं। कोविड नियंत्रण के सभी उपायों को लागू कराने के साथ दवाइयों से लेकर मैन पॉवर व अन्य संसाधनों का इंतजाम हो, सभी कार्यों में वे पूरी शिद्दत से जुटे हैं। अचानक बढ़े संक्रमण के बाद 500 बेड केआईटी कोविड केयर सेंटर में 300 बिस्तर ऑक्सीजन करने की चुनौती रखी। जिसमें से 150 बिस्तर तैयार कर लिए गए हैं।

जिले में अभी 550 ऑक्सीजन बेड पाइप लाइन की सुविधा तथा 150 बेड सिलेंडर की सहायता से शुरू कर लिया गया है। केआईटी 150 बेड तथा मंगल भवन सारंगढ़ में 50 बिस्तर और तैयार लिए गए हैं। सिलेंडर के माध्यम से मरीजों को ऑक्सीजन सुविधा दी जाएगी। अस्पताल में सारी व्यवस्था कर ली गई है, इंतजार अब फ्लोमीटर आने का है। हफ्ते के आखिर तक एक हजार बेड की सुविधा तैयार कर ली जाएगी।

खरसिया में 150 बिस्तर, पूंजीपथरा में 150 बिस्तर, धरमजयगढ़ में 30 तथा लैलूंगा में 30 बिस्तर सहित अन्य स्थानों में 500 ऑक्सीजन बेड बढ़ाने की तैयारी की जा रही है। जिससे जिले में 1500 ऑक्सीजन बेड की सुविधा तैयार हो सके । मेडिकल कालेज में पाइपलाइन से ऑक्सीजन सप्लाई का काम भी तेजी से पूरा रहा है। यहां स्थापित ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट की क्षमता बढ़ाई जा रही है। दिल्ली से उपकरण एयर लिफ्ट करवाया जा रहा है। रविवार तक यहां 100 ऑक्सीजन बेड और तैयार कर लिया जाएगा। इसके साथ ही ओडि़शा से टेक्नीशियन्स बुलवाकर ग्राउंड फ्लोर में बेड बढ़ाने के लिए पाइप लगवाने का कार्य तेजी से पूरा करवाया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...