पंजीयन 1 जून से / अरहर, मूंग, कुल्थी, रामतिल कुटकी, सोयाबीन को बढ़ावा

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

रायगढ़. खरीफ में धान व मक्का की जगह दूसरी फसलों को प्रोत्साहन देने की तैयारी है।  इसके लिए कृषि व राजस्व विभाग ने पूरी तैयारी कर ली है। हाल ही में शुरू हुई राजीव गांधी किसान न्याय योजना में किसानों का 1 जून से पंजीयन भी शुरू किया जाएगा। किसान 30 सितंबर तक पंजीयन करा सकेंगे। इन्हें 10 हजार रुपए तक आर्थिक सहायता भी सरकार प्रदान करेगी।
योजना के तहत पंजीकृत किसानों को लाभ मिलेगा। इसके लिए डायरेक्ट बेनीफिट ट्रांसफर(डीबीटी) के माध्यम से राशि सीधे किसानों के बैंक खातों में डाली जाएगी। इस योजना के अंतर्गत खरीफ मौसम में धान, माक्का, के अलावा रामतिल, कोदो, कुटकी, अरहर, मूंग, कुल्थी, रागी, मूंगफली एवं सोयाबीन तथा रबी मौसम में गन्ना की खेती को शामिल किया गया है। इसके अंतर्गत खरीफ वर्ष 2019 में धान एवं मक्का लगाने वाले पंजीकृत किसानों को अधिकतम 10 हजार रुपए प्रति एकड़ की दर से सहायता राशि मिलेगी। पंजीयन के लिए एक फॉर्म में मांगी गई जानकारी भरकर क्षेत्रीय ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी व पटवारी को देना होगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना