पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अच्छी बारिश से पर्याप्त पानी:केलो डैम से शहर को आठ महीने मिलेगा पानी मध्यम-माइनर टैंकों से खेतों को देंगे सप्लाई

रायगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इसलिए पिछले साल से 21 हजार हेक्टेयर में ज्यादा होगी दलहन-तिलहन फसल की बोआई

जलाशयों से रबी फसल की सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी मिलेगा। अच्छी बारिश के बाद केलो डैम समेत सभी जल स्त्रोतों में पर्याप्त पानी है। केलो डैम अगले 8 महीने तक शहर को पीने का पानी उपलब्ध कराया जाएगा तो मध्यम और माइनर टैंकों से किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी मिलेगा। कृषि विभाग भी कम पानी वाली दलहन तिलहन फसलों को बढ़ावा दे रही है, ताकि किसानों को दिक्कत न हो। इस बार कृषि विभाग ने रबी में एक लाख 30 हेक्टेयर में फसल बोआई का लक्ष्य है। यह बीते साल की तुलना में 21 हजार हेक्टेयर ज्यादा है। कृषि विभाग के अनुसार खरीफ में जिले में 2 लाख 97 हजार हेक्टेयर तो वहीं रबी में सिर्फ 90 हजार हेक्टेयर की सिंचाई हो रही है। जिले में एक मेजर, चार मध्यम, 148 माइनर टैंकों के लावा कुएं और तालाबों से इनकी सिंचाई होती है। सिंचिंत रकबा और ज्यादा हो सकता था, लेकिन जलाशय निकली नहरों की स्थिति खराब होने से किसानों को कोई सहयोग नहीं मिल रहा है। केडार, पुटका और किंकारी जलाशयों से लाभांवित होने वाले कुल गांवों की संख्या 105 है।

जिले के मध्यम जलाशयों से लगभग 13 हजार हेक्टेयर कृषि भूमि सिंचिंत होनी है, लेकिन बीते सालों में बारिश कम होने के कारण अप्रैल तक सभी जलाश्य सूख जाते थे, इसलिए सिंचाई के लिए तय क्षमता के अनुरूप सिंचाई नहीं हो सकी, लेकिन इस बार पर्याप्त पानी है।

केलो डैम में 33 से 35 प्रतिशत पानी स्टोरेज में रखना ही पड़ेगा
अभी केलो डैम में ही 65.28 प्रतिशत पानी है। केलो डैम से लगभग 4 हजार हेक्टेयर खेत की सिंचाई होती है। डैम में 33 से 35 प्रतिशत पानी निस्तारी व अन्य उपयोग के लिए स्टोरेज रखा जाता है, शेष 30 प्रतिशत पानी सिंचाई के लिए देंगे तो भी तो ज्यादा रकबा सिंचित नहीं हो पाएगा। अफसर कह रहे हैं कि अब किसानों की ओर से पानी की डिमांड और ऊपर से जैसा आदेश आएगा, वैसा करेंगे।

एग्रीमेंट हुआ, ओडिशा को प्रति सेकंड देंगे 3 क्यूमेक्स मीटर पानी
शासन से अनुबंध के अनुसार साल भर केलो डैम से प्रति सेंकेड 3 क्यूमेक मीटर पानी देना है। यही वजह है कि वृहद सिंचाई योजना के तहत तैयार किए गए। यही वजह है कि इस डैम से रबी सीजन में किसानों को सिंचाई के लिए पानी नहीं दिया जा सकता है।

ओडिशा व शहर को करेंगे पानी की सप्लाई
"केलो डैम से खरीफ फसल के लिए 22 हजार हेक्टेयर में सिंचाई के लिए पानी दिया है। रबी की बजाए डैम 8 महीने तक शहर की जल आपूर्ति और ओडिशा को प्रति सेकेंड तीन क्यूमेक मीटर पानी देता है। रबी की सिंचाई मध्यम और माइनर से की जाती है।''
ए शर्मा, एसडीओ, केलो परियोजना

1 लाख 30 हजार हेक्टे. सिंचाई का लक्ष्य
"रबी सीजन में इस दलहन तिलहन फसलों को बढ़ावा दिया जाएगा, क्योंकि इन फसलों को पानी की आवश्यकता कम होती है। एक लाख 30 हजार हेक्टेयर का लक्ष्य रखा है। इसमें से 90 हजार हेक्टेयर सिंचित रकबा है।''
-ललित मोहन भगत, डीडीए रायगढ़

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें