निरीक्षण / सेंटर में कलेक्टर ने पूछा- मनरेगा में काम मिले तो करेंगे, मजदूर बोले- हां

The Collector asked at the center - If you get work in MGNREGA, the workers will say - Yes
X
The Collector asked at the center - If you get work in MGNREGA, the workers will say - Yes

  • दूसरे दिन ही क्वारेंटाइन सेंटरों का निरीक्षण करने पहुंचे कलेक्टर सिंह

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

रायगढ़. शुक्रवार को कलेक्टर ने शहर के भीतर और नजदीकी क्वारेंटाइन सेंटरों का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने मजदूरों से पूछा कि वे बाहर किस काम के लिए गए थे। यदि उन्हें उनके गांव में मनरेगा के तहत काम मिले तो वे करेंगे। अधिकांश मजदूरों ने हां कहा। उन्होंने ने सभी जॉब कार्ड के लिए आवेदन भरने को कहा, ताकि क्वारेंटाइन की अवधि पूरा कर जब वे अपने गांव लौटे तो उन्हें बेरोजगार न रहना पड़े। 
कलेक्टर भीम सिंह ने तीन क्वारेंटाइन सेटरों का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने तमाम व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी ली। सबसे पहले वे केवड़ाबाड़ी स्थित शासकीय पोस्ट मैट्रिक छात्रावास पहुंचे। यहां कुल 20 लोगों को वर्तमान में क्वारेंटाइन में रखा गया है। सैंपलों की जांच भी हो चुकी है। कलेक्टर ने क्वारेंटाइन किए गए व्यक्तियों, महिलाओं से सीधे बातचीत की। उन्होंने एक-एक कर सभी से समय पर भोजन व्यवस्था, पीने का पानी समेत अन्य सुविधाओं की जानकारी ली।

6 राज्यों से आए मजदूर
कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए शासन के निर्देश के अनुसार सेंटर बनाए गए हैं। तीनों क्वारेंटाइन सेंटर में 6 राज्यों से आए मजदूरों को क्वारेंटाइन किए गए है। इसमें दिल्ली, मुंबई, ओडिशा, मध्यप्रदेश, दरभंगा बिहार, झारखंड से आए मजदूर हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना