कार्रवाई करने की उठी मांग:निर्माण के दो महीने बाद ही टूटने लगी सड़क

राउरकेला/कुआरमुंडा18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कुआरमुंडा ब्लॉक में डीएमएफएस द्वारा चंद्रहरिपुर से लांजीबर्ना तक बनी सड़क निर्माण के 2 महीने बाद ही टूटने लगी है । सड़क का सरिया बाहर दिखने लगा है। इससे इलाके से आने जाने वाले ग्रामीण व कई लोगों को दिक्कत हो रही है।

खराब निर्माण के लिए स्थानीय लोगों ने कार्रवाई की मांग की है, वही उस रास्ते से गुजरने वाले लोगों ने बताया कि सड़क का निर्माण हुए अभी 2 माह भी नहीं हुए हैं और जगह-जगह सड़क पर लोहा रॉड निकलने लगा है। सड़क भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि करोड़ों रुपए की लागत से बनी यह सड़क महज 2 माह के भीतर टूटने लगी है। सड़क में लगाई गई गिट्टी छिटकने लगी है। ऐसे में सड़क की गुणवत्ता पर सवाल उठना स्वभाविक है। इससे स्थानीय लोग काफी नाराज हैं। लोगों का कहना है कि निर्माण के दौरान जमकर अनदेखी की गई। सड़क निर्माण के दौरान घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया गया। बालू, गिट्टी और सीमेंट अनुपात भी ठीक नहीं रहा, जिससे सड़क टूटने लगी है। सड़क निर्माण कार्य में घटिया सामग्री का उपयोग हो रहा है। यही कारण है कि सड़क बनते ही टूटने लगती है। यदि सड़क इसी तरह टूटती रही तो कुछ ही दिनों में पूरी तरह जर्जर हो जाएगी लेकिन परेशानी से लोगों को झेलनी पड़ेगी। उन्होंने इसकी जांच कराकर कार्रवाई की मांग की है।

खबरें और भी हैं...