पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आंदोलन पर सियासत:तीन घंटे जाम रखा हाइवे, मोदी पर किसानों से ज्यादा कांग्रेसी नेता गरजे

रायगढ़19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • केंद्र सरकार के तीन कृषि कानून के खिलाफ किसानों का चक्काजाम

केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन में अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति व संगठनों के साथ कांग्रेसियों द्वारा शनिवार को जिले में 12 जगहों पर दोपहर 12 से 3 बजे तक चक्काजाम व धरना प्रदर्शन किया गया। इसमें कुछ किसानों के साथ बड़ी संख्या में कांग्रेसी और सामाजिक कार्यकर्ता शामिल हुए।

हाइवे पर सफर रहे लोगों को घंटों परेशान होना पड़ा। जिले में किसान के इस आंदोलन में कांग्रेसी हावी रहे। उल्लेखनीय है कि जिले में धान खरीदी 29 जनवरी को भारी खरीदी के साथ पूरी हुई।

समर्थन मूल्य के अलावा राज्य के किसानों को प्रदेश सरकार की तरफ से राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत अंतर की राशि भी किस्तों में दी जा रही है।

जिले के किसान धान के उत्पादन और बिक्री में व्यस्त रहे इसलिए यहां पहले कोई आंदोलन नहीं हुआ। अब धान खरीदी पूरी होने के बाद किसानों के संगठन आंदोलन के लिए उतरे हैं।

बारदाने की कमी और गिरदावरी में गड़बड़ी के कारण बीजेपी ने लगातार आंदोलन किए हैं इसलिए कांग्रेस भी राजनीति के इस अवसर को गंवाना नहीं चाहती थी। लगभग सभी प्रमुख ब्लाक में कांग्रेसियों ने इस आंदोलन को समर्थन दिया।

90 फीसदी किसान कांग्रेस विचारधारा के
विधायक प्रकाश नायक ने कहा, कांग्रेस हमेशा किसान के समर्थन में रही है। आंदोलन में शामिल 90 फीसदी किसान कांग्रेस विचारधारा के हैं । बड़ा व्यापारी खेती करेगा तो बड़े लोगों को उसमें जोड़ेगा ना की छोटे किसानों को, इससे गांव के किसानों को नुकसान होगा । आंदोलन में जिपं अध्यक्ष निराकार पटेल, जानकी काटजू, नागेंद्र नेगी, अनिल अग्रवाल चीकू समेत अन्य कांग्रेसी शामिल हुए।

प्रकाश और तारिका तरंगिनी उलझे
2019 के आम चुनाव में रायगढ़ लोकसभा से निर्दलीय चुनाव लड़ने और ईवीएम के बदले बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग वाली याचिका दायर कर चर्चित हुईं आदिवासी महिला नेत्री तारिका तरंगिनी ने मंच से भाजपा के साथ कांग्रेस सरकार को भी खरीखोटी सुनाई तो रायगढ़ विधायक प्रकाश नायक से उनकी नोकझोंक हुई।

तारिका ने मंच से कहा, केंद्र सरकार ने गलत कानून लाया वहीं कांग्रेस भारत बंद और नाकेबंदी का समर्थन कर आम जनता को परेशान कर रही है। किसानों के मुद्दे को कांग्रेस ठीक ढंग से नहीं उठा पा रही है। तारिका ने कहा, आंदोलन में यहां किसान से ज्यादा कांग्रेसी दिख रहे हैं। इस पर विधायक प्रकाश नायक आपत्ति जताते हुए खड़े हुए और लोगों को गुमराह नहीं करने की नसीहत दी।

किसी ने रास्ता बदला तो कुछ लोग घंटों फंसे रहे
चक्काजाम के कारण हाइवे पर चलने वाले वाहनों के साथ उद्योगों में होने वाली ट्रांसपोर्टिंग और बस सेवा प्रभावित हुई। यात्रा कर रहे लोगों को भी परेशानी झेलनी पड़ी। रायगढ़- सराईपाली मार्ग बंद होने की स्थिति में छातामुड़ा चौक बेरिकेड्स लगा दिया था। गाड़ियों को रायगढ़ से औरदा, गढ़उमरिया होते हुए पुसौर की तरफ से डायवर्ट करना पड़ा। हाइवे पर हर तरफ वाहनों की लंबी कतार नजर आई। 3.15 बजे आंदोलन खत्म हुआ।

12 जगहों पर धरना बाइक को नहीं रोका
किसान संगठनों के साथ कांग्रेसियों ने 12 जगह चक्काजाम किया । रायगढ़ में पटेलपाली, बस स्टैंड चौक धरमजयगढ, पत्थलगांव रोड कापू, लैलूंगा मुख्य मार्ग, रायगढ़-तमनार रोड, मेन चौक सरिया, बस स्टैंड चौक बरमकेला, लक्ष्मी बाई चौक सारंगढ़, रानी लक्ष्मी बाई चौक सारंगढ़, जयस्तंभ चौक घरघोड़ा, रायगढ़-कोतरा मार्ग पर चक्काजाम हुआ ।

बालकराम पटेल भी आए मंच पर

पहले कांग्रेसी रहे और किसान नेता बालकराम पटेल पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान पार्टी से अलग हो गए थे। तब कांग्रेसियों ने उन पर जमकर भड़ास निकाली थी। किसान आंदोलन में कांग्रेसियों के साथ बालकराम भी पंडाल में दिखे। उन्होंने खुद को किसान बताते हुए, कृषि कानून का विरोध और देशभर में चल रहे किसान आंदोलन का समर्थन किया ।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

    और पढ़ें