अब सत्तीगुड़ी चौक में भी मिला डेंगू मरीज:डेंगू के दो नए मरीज मिले, जिले के 49 में 38 मरीज शहर से, लोगों में दहशत

रायगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बुधवार को शहर में 2 डेंगू पॉजिटिव मरीज मिले हैं। जिले में अब तक 49 डेंगू पॉजिटिव मरीज मिले हैं इनमें 38 शहर से हैं। गुलमोहर कॉलोनी से एक पॉजिटिव मरीज मिला है, वही केजीएच हॉस्पिटल का स्टाफ भी डेंगू की चपेट में आ गया है।

इंदिरा नगर की एक महिला मरीज को केजीएच हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था। स्थिति गंभीर होने के बाद उसे हॉस्पिटल के आईसीयू में रखा गया है। बुधवार को महिला की तबीयत में सुधार आया है। बुधवार शाम को शहर से ही वार्ड नंबर 17 सत्तीगुड़ी चौक से भी एक डेंगू मरीज मिला। मेडिकल बुलेटिन में इसे शामिल नहीं किया गया था। ट्रांसपोर्ट नगर में भी तीन पॉजिटिव मरीज वहां मिले हैं। सीएमएचओ डॉ एसएन केशरी ने बताया कि अब तक शहरी क्षेत्र में सबसे अधिक 8 केस दरोगापारा से, गांधीगंज से 6 तथा सांगीतराई ट्रांसपोर्ट नगर से 3 केस पाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग लोगों को घर में मच्छर से बचाव के उपाय करने और हरसंभव मच्छरदानी के उपयोग की सलाह दे रहा है। गांधी गंज में नगर निगम अब विशेष ध्यान दे रही है, वहां एक घर में पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद आसपास के घरों में भी लोगों की तबीयत खराब हुई और जब जांच कराई तो डेंगू निकला। निगम कर्मियों का कहना है कि इलाके में दो दिन पहले एक मरीज की डेंगू रिपोर्ट उसके ठीक होने के बाद मिली।

पॉजिटिव शब्द से डरिए मत
कोरोना के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव सुनना मरीजों के लिए डरावना है। इलाज नहीं कराने पर ही डेंगू जानलेवा हो सकता है। डेंगू पीड़ित आसानी से रिकवर कर सकते हैं। डेंगू पीड़ित के शरीर में वायरस होता है। ऐसे व्यक्ति को जब सामान्य मच्छर काटता है तो वह शरीर से खून चूसता है। मच्छर स्वस्थ व्यक्ति को काटे तो संक्रमण हो सकता है। एक रोगी के संपर्क से दूसरे शख्स को डेंगू नहीं होता है। हाथ मिलाने, बिस्तर पर बैठने, खांसी या छींक के जरिए डेंगू नहीं फैलता है हालांकि मच्छर के जरिए वायरस एक शरीर से दूसरे शरीर में जा सकता है इसलिए इसे संक्रामक माना गया है।

खबरें और भी हैं...