पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तेज अंधड़ और बारिश:बिहार से असम तक बने चक्रवाती घेरे से बेमौसम बरसात, आज भी हैं आसार

रायगढ़5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नालियां जाम इसलिए दो घंटे की बारिश के बाद शहर की ज्यादातर सड़कों पर भर गया पानी। - Dainik Bhaskar
नालियां जाम इसलिए दो घंटे की बारिश के बाद शहर की ज्यादातर सड़कों पर भर गया पानी।
  • अंधड़ और बिजली कड़कने से बरसात जैसा नजारा, बिजली विभाग ने घंटेभर बंद किए शहर के फीडर
  • दोपहर नहीं, रात 9.30 बजे का फोटो है। आसमान में बिजली चमकने से हो गया ऐसा उजाला।

सोमवार सुबह से दोपहर तक हल्के बादल रहे। शाम 4.30 बजे हल्की बूंदाबादी के बाद 8 बजे आंधी चली और फिर लगभग दो घंटे तक मूसलाधार बारिश हुई। इससे ठंडी हवा चली, उमस ने लोगों को परेशान किया लेकिन गर्मी से राहत मिली। तेज अंधड़ के कारण तार टूटने या सब स्टेशन पर बिजली गिरने की आशंका से बिजली विभाग को लगभग एक घंटे तक फीडर बंद कर सप्लाई रोकनी पड़ी। मौसम का ऐसा मिजाज मंगलवार को भी देखने को मिल सकता है।

शाम को अचानक से तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हो गई। मौसम विभाग ने एक दिन पहले ही चेतावनी जारी कर दी थी। मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा के अनुसार पश्चिमी से पूर्वी उत्तर प्रदेश तक द्रोणिका बनने और बिहार से बंगाल होते हुए असम तक चक्रवाती घेरे का असर पूर्वी इलाके समेत प्रदेश के कई जिलों में पड़ा है। बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है, जिले में मंगलवार को एक दो स्थानों पर हल्की वर्षा के साथ गरज-चमक की संभावना मौसम वैज्ञानिकों ने जताई है। कुछ समय के लिए हुई बारिश से मौसम में अचानक सर्द माहौल आ गया। शाम को चलने वाली ठंडी हवाओं ने लोगों को सुकून दी साथ ही कोरोना का प्रकोप और बढ़ने को लेकर डर का महौल भी बना दिया।

आम के लिए फायदेमंद यह बारिश
उद्यानिकी के अधिकारियों के मुताबिक सोमवार काे हुई बारिश आम के लिए काफी फायदेमंद है। अब आम का ग्रोथ तेजी से होगा और देसी आम बरसात से पहले बाजार में अाने शुरू हो जाएंगे। सब्जियों को किसी तरह से केाई नुकसान नहीं पहुंचा है। यदि आगे और बारिश होती है या फिर ओले गिरते हैं तो टमाटर, लौकी, बैगन सहित अन्य सब्जियों को नुकसान हो सकता है।

खुले में रखे धान को खतरा
जिले में धान खरीदी के तीन महीने बाद भी उठाव पूरा नहीं हो सका है। दर्जनभर समितियों में बड़ी मात्रा में धान की बोरियां खुले में रखी हैं। हालांकि समितियों ने उनपर तारपोलिन की कवर डाली हुई थी लेकिन तेज आंधी के कारण कई जगह धान के भीगने की खबर है। अचानक बिगड़े मौसम के कारण इंतजाम नहीं होने से कई जगह धान के स्टेक भीग गए वहीं कुछ स्थानों में पानी जमा होने से धान के खराब होने की आशंका है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें