पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raigarh
  • We Were Not Picking Up The Phone, The Dead Body Was Found On The Bed In The Room, Dr. Prasanna Gupta Was Posted In The Medical College For A Year.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

माइक्रोबायोलॉजी विभाग प्रमुख की मौत:फोन नहीं उठा रहे थे, कमरे में बेड पर पड़ा मिला शव, मेडिकल कॉलेज में सालभर से पदस्थ थे डॉ. प्रसन्ना गुप्ता

रायगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मेडिकल कॉलेज में माइक्रोबायोलॉजी विभाग के प्रमुख डॉ. प्रसन्ना गुप्ता का शव गुरुवार सुबह उनके सरकारी आवास पर मिला। मेडिकल टाउनशिप स्थित क्वार्टर में डॉ. गुप्ता अकेले रहते थे। लक्षण कोरोना जैसे थे हालांकि उनकी आरटीपीसीआर रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद वे ड्यूटी पर थे। बुधवार को कैजुअल अवकाश लेने के बाद गुरुवार सुबह जब साथी चिकित्सकों को फोन पर जवाब नहीं मिला तो संदेह पर उनका दरवाजा खुलवाया गया। बेड पर उनका शव नग्नावस्था में पड़ा मिला।

जिले के साथ प्रदेश के 7 जिलों की कोरोना जांच का जिम्मा संभालने वाले माइक्रोबायोलॉजी विभाग के प्रमुख की संदेहास्पद मौत की खबर मिलने से ही मेडिकल कॉलेज समेत प्रशासनिक अफसर सकते में आ गए। 46 साल के प्रो. डॉ. प्रसन्न गुप्ता कॉलेज टाउनशिप के 12 नंबर क्वार्टर में रहते थे।

सुबह जब वे काफी देर तक दिखाई नहीं दिए तो उनके पड़ोसी डॉक्टर सुनील सिंह ने उन्हें कॉल किया। कॉल रिसीव नहीं होने पर डीन को जानकारी दी गई। दरवाजा तोड़ने पर उनकी लाश बिस्तर पर पड़ी मिली। सूचना के बाद चक्रधर नगर पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा कर शव को पीएम के लिए मोर्चरी में रखवा दिया है।

पेन पकड़े हुए थे, कमरे से नहीं मिला कोई नोट
प्रोफेसर के दाहिने हाथ में पेन फंसा हुआ मिला। पुलिस ने पेन देखने पर पूरे कमरे की तलाशी ली। आशंका थी कि प्रोफेसर ने कोई नोट या संदेश लिखा हो। पूरे कमरे में किसी प्रकार का कोई नोट नहीं मिला। इससे अंदाजा यह लगाया गया है कि वे गंभीर हालत होने पर कुछ लिखना चाह रहे होंगे। प्रोफेसर के कमरे में ड्राइफ्रूट और जूस के पैकेट मिले, लेकिन कोई पैकेट खुला नहीं था।

संक्रमित नहीं, लेकिन सर्दी, खांसी जैसे लक्षण थे
प्रो. डॉ. प्रसन्ना गुप्ता अंतर्मुखी थे। डॉक्टर और स्टाफ के बीच वे घुले-मिले नहीं थे। कुछ डॉक्टर्स ने बताया कि अधिक वजन होने के बाद बावजूद एक्सरसाइज या वॉकिंग नहीं करते थे। विभाग के शानदार प्रबंधन के बावजूद मेडिकल कॉलेज के ही कई लोगों को यह पता नहीं था कि वे माइक्रोबायोलॉजी विभाग के प्रमुख थे।

उन्हें पिछले कुछ दिनों से सर्दी और कोरोना जैसे लक्षण थे। सीनियर और साथियों की सलाह पर उन्होंने आरटीपीसीआर जांच कराई, रिपोर्ट निगेटिव आई। वे ड्यूटी पर थे लेकिन बुधवार को तबियत ठीक नहीं लगने के कारण उन्होंने एक दिन का अवकाश लिया हुआ था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का अधिकतर समय परिवार के साथ आराम तथा मनोरंजन में व्यतीत होगा और काफी समस्याएं हल होने से घर का माहौल पॉजिटिव रहेगा। व्यक्तिगत तथा व्यवसायिक संबंधी कुछ महत्वपूर्ण योजनाएं भी बनेगी। आर्थिक द...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser