पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हाईटेक सेंट्रल नर्सरी:आप भी लगाइए नेचुरल ऑक्सीजन प्लांट... सेंट्रल नर्सरी में तैयार हैं 6 लाख पौधे

रायगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर से लगे भेलवाटिकरा में हाईटेक सेंट्रल नर्सरी बनाई गई है। बारिश में पौधरोपण के लिए पौधे कम न पड़ें इसलिए 6 लाख नर्सरी तैयार की गई हैं। फलदार पौधों के साथ औषधीय पौधे, साज, सज्जा और हरियाली बढ़ाने वाले पौधे भी हैं। मौसम आ गया है, हम और आप अपने आसपास प्राकृतिक ऑक्सीजन प्लांट लगा सकते हैं। सरकारी योजना के तहत पड़त भूमि पर फल या इमारती लकड़ी वाले पौधे लगाएं तो प्रति एकड़ 10 हजार रुपए की सहायता मिलेगी।

यहां हर साल तैयार किए जाएंगे 3 लाख पौधे

  • मनरेगा के तहत 6 लाख 50 हजार 475 पौधरोपण सभी विभागों में दिए जाएंगे।
  • 16 नर्सरी में 40 प्रजाति के पौधे हो रहे तैयार

नर्सरी में इतने पौधे...

  • 76 हजार आंवला
  • 36 हजार मुनगा
  • 8 हजार हर्रा
  • 1 हजार काजू
  • 1 हजार अशोक
  • 8 हजार इमली
  • 1 हजार करंज
  • 7 हजार आम
  • 3 हजार बेहरा
  • 8 हजार सागौन

ऐसे लगाएं पौधे- ऐसी जगह का चयन करें जहां पौधे को पर्याप्त हवा और धूप मिल सके। पौधे के आकार के हिसाब से गड्‌ढा करें, मिट्‌टी नम हो, बिल्कुल तर न हो। गोबर खाद, निगम या गोठान समिति द्वारा तैयार वर्मी कंपोस्ट का उपयोग कर सकते हैं। घर में गमलों में भी फलदार पौधे लगाए जा सकते है। पौधे के आकार के हिसाब से गड्‌ढा करें। रोपण के बाद पानी डालें। शुरुआती 7-10 दिन तक उसकी देखरेख करें।

कब करें पौधरोपण
शासन की अलग-अलग योजनाओं से हर साल पौधरोपण किए जाते हैं। इस बार भी पौधा तुंहर द्वार योजना, हरियाली प्रसार योजना सहित अन्य योजनाओं में लाखों की संख्या में पौधरोपण किए जाने हैं। डीएफओ प्रणय मिश्रा के अनुसार पौधरोपण करने का सबसे उपयुक्त समय वर्षा ऋतु में 15 जून से 31 जुलाई तक है।

खबरें और भी हैं...