पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

परेशानी:युवाओं ने सड़क का निर्माण कराने के लिए सोशल मीडिया में छेड़ा अभियान

पत्थलगांव12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सड़कों के नहीं बनने से जनप्रतिनिधियों के प्रति बढ़ रहा लोगों का गुस्सा

शहर के एक दर्जन से भी अधिक युवक इन दिनों एक मुहिम चलाकर खस्ताहाल सड़कों से होने वाली परेशानी को नेताओँ तक पहुंचाने का काम कर रहे है। ये युवक कभी इंदिरा चौक पर हाथों में तख्तियां लेकर बैठे दिखाई देते हैं तो कभी सोशल मीडिया मे तरह-तरह के स्टीकर अपलोडकर अपना रोष जता रहे हैं। ऐसा करके वे शहर की खस्ताहाल सड़कों की ओर नेताओँ का ध्यान आकर्षित करना चाह रहे हैं। पिछले एक दशक से शहर की सड़कें बेहद खराब है। बारिश के दिनो में सड़कों पर सैकड़ो जानलेवा गड्ढे बन गए हैं, वहीं बारिश रुकते ही सड़कों से उड़ने वाली धूल लोगों को बीमारी की चपेट में ला रही है। शहर की दो प्रमुख अंबिकापुर एवं जशपुर मार्ग की सड़क राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग के अंतर्गत आती है। लगभग 10 वर्षो से विभाग बारिश के बाद इन दोनों ही सड़क की मरम्मत का काम कराती है, लेकिन सड़कें कभी भी गुणवत्ता की कसौटी में खरी नहीं उतर सकी। शहर में बारिश थमे एक सप्ताह से भी अधिक का समय गुजर चुका है। ऐसे मे यहां की दोनों प्रमुख सड़कों में वाहनों की आवाजाही से धूल के गुबार उठ रहे हैं। ऐसे में नागरिकों को घर से निकलना आफत बन चुकी है। इस मुसीबत को देखकर युवकों ने शासन-प्रशासन का ध्यानाकर्षण कराने के लिए नायब तरीका खोज निकाला है। वे हाथों में तख्ती लेकर सोशल मीडिया के साइट में स्टीकर बनाकर नेता एवं प्रशासनिक अधिकारियों का ध्यानाकर्षण कराते हुए धूल से मुक्ति दिलाने की अपील कर रहे हैं। पत्थलगांव के लोग कोरोना जैसे संक्रमण के बीच सड़कों की धूल से भी काफी परेशान हैं। यहां के अस्पताल में इन दिनो खांसी,अस्थमा,सर्दी,बालो का झड़ना एवं आंखों में जलन के अधिकांश मरीज पहुंच रहे है। डॉक्टर भी इन मरीजों की बिमारी का कारण अस्सी फीसदी सड़कों से उड़ने वाली धूल को ही जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।

सड़कों की दुर्दशा पर जनप्रतिनिधियों को कोस रहे
शहर के युवा सड़कों की दुर्दशा को लेकर जनप्रतिनिधियों को कोसने में लगे है। उनका आरोप है कि जनप्रतिनिधि अपना मतलब साधकर जनता के हितों से मुंह मोड़ ले रहे है। युवाओं का मानना है कि जनप्रतिनिधि पांच साल मे चुनाव के वक्त शहर के लोगों के चौखट झांकने आते है। उस दौरान उनके द्वारा सड़क, बिजली, पानी, नाली जैसी मूलभूत सुविधाओं की ओर इशारा कर जनता की वाहवाही लूट ली जाती है, लेकिन सत्ता में काबिज होते ही जनता से किए वादे भूल जाते हैं। इन दिनों शहर में सबसे अधिक परेशानी का कारण एनएच विभाग की सड़कें बनी हुई है। युवक इन सड़कों की परेशानी से तंग आकर चुनाव में जीतकर आए जनप्रतिनिधियों को कोसते नजर आ रहे है। उनका मानना है कि सत्ता मे काबिज जनप्रतिनिधि कुर्सी मे बैठने के बाद सिर्फ अपनी स्वार्थ सिद्धी में मग्न हैं।

शहर के अंदर सीसी सड़क बनाने की हो रही मांग
सड़को की बदहाली देखने के बाद शहर में सीसी सड़क बनाने की मांग उठ रही है। युवकों का कहना है कि बारिश में जब गुणवत्ताहीन सड़क का डामर बार-बार बेकार होकर गड्ढो में तब्दील हो जाता है तो क्यो ना शहर के अंदर दोनों प्रमुख मार्ग मे विभाग द्वारा सीमेंट कांक्रीट की सीसी.सड़क बनवा दी जाए। लोगों का मानना है कि सीसी सड़क के साथ ड्रेनेज सिस्टम का विस्तार करने से बारिश का पानी को निकासी करने की सुविधा भी मिल जाती एवं उसके अलावा सड़कों को बारिश के पानी से होने वाले नुकसान से भी बचाया जा सकता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें