बसरिया गांव से पकड़ाया आरोपी:रेलवे ई-टिकट की कालाबाजारी के आरोप में आरपीएफ ने एक आरोपी को किया गिरफ्तार

सरिया3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सरिया स्थित हजारीबाग रोड रेलवे सुरक्षा बल द्वारा रेलवे बोर्ड से मिली सूचना के आधार पर गलत ढंग से रेलवे ई टिकट बनाकर ऊंची कीमत में बेचने के आरोप में एक युवक को हजारीबाग जिले के बरकट्ठा थाना अंतर्गत बसरिया गांव से गिरफ्तार कर धनबाद रेलवे न्यायालय भेज दिया गया। इस बाबत आरपीएफ निरीक्षक अरुण राम ने पत्रकारों को बताया कि रेलवे बोर्ड से लगातार यह गुप्त सूचना प्राप्त हो रहा था की आईआरटीसी के निजी आईडी के माध्यम से लगातार गलत ढंग से रेलवे टिकट बनाया जा रहा है।

जिसके आलोक में हजारीबाग रोड आरपीएफ के द्वारा एक टीम का गठन किया गया। जिसमें आरपीएफ निरीक्षक अरुण राम, उप निरीक्षक राजेश कुमार, प्रधान आरक्षी जितेंद्र कुमार शर्मा, आरक्षी दीपक कुमार यादव, धनंजय राम, आरती कुमारी की संयुक्त टीम बनाई गई। टीम के द्वारा हजारीबाग जिले अंतर्गत बरकट्ठा थाना क्षेत्र के बसरिया गांव रेलवे बोर्ड के द्वारा बताए गए लोकेशन पर पहुंचा और पूछताछ के क्रम में शंकर प्रसाद नामक व्यक्ति के द्वारा बीते कई दिनों से रेलवे टिकट कालाबाजारी कर उच्ची कीमत में बेचने की बातों का मिलन हुआ।

जिसके बाद आरोपी युवक शंकर प्रसाद के मोबाइल की जांच करने एवं रेलवे बोर्ड से मिली आईडी का मिलान करने पर अवैध ढंग से लगभग 5754 रुपया मूल्य की 3 रेलवे ई टिकट जिसकी यात्रा की तारीख 14 सितंबर को जप्त किया गया। साथ ही पूर्व में शंकर प्रसाद के निजी आईडी से बने 6 अवैध रेलवे टिकट जिसका कुल अनुमानित मूल्य 14992 रुपया को जब्त किया गया। इसके अलावा आरोपी के पास से टिकट बनाने के प्रयोग लाने वाले मोबाइल एवं उक्त युवक को हिरासत में लेकर हजारीबाग रोड आरपीएफ पोस्ट लाया गया जहां उसने लालच में ये काम करने की बात स्वीकार की।

खबरें और भी हैं...