पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मजदूरों की जीत:एनएमडीसी प्रबंधन झुका, हड़ताल स्थगित

बचेली8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कर्मचारी संगठनों ने भी काम बंद हड़ताल को अगली चर्चा तक स्थगित किया

मेडिकल बेनिफिट पॉलिसी के विरोध में एनएमडीसी श्रमिक संगठनों की टूलडाउन हड़ताल की चेतावनी के बाद अंतत: एनएमडीसी प्रबंधन ने मेडीक्लेम इंश्योरेंस स्कीम लागू करने के निर्णय को फिलहाल स्थगित कर दिया है। इसके बाद कर्मचारी संगठनों ने भी काम बंद हड़ताल को अगली चर्चा तक स्थगित कर दिया है एनएमडीसी प्रबंधन ने रिटायरमेंट के बाद श्रमिकों के स्वास्थ्य लाभ हेतु पूर्व से चली आ रही पीआरएमबीएस को खत्म कर बिल्कुल नई मेडिक्लेम इंश्योरेंस स्किम लाने के संबंध में मजदूर यूनियनों से बगैर चर्चा किये ही एक सर्कुलर जारी किया था।

मज़दूर यूनियनों के ऐसे किसी भी फैसले से पहले मज़दूर यूनियनों के फेडरेशन से व्यापक विचार विमर्श का सुझाव के बाद गत 25 मार्च को विशाखापटनम में इस पर विचार के लिए एक बैठक बुलाई थी। अचानक ही गत 31 मार्च को हैदराबाद हेड ऑफिस से पुराने मेडिकल स्किम को खत्म करने का आदेश जारी किया गया था। मजदूर संगठनों ने इस आदेश के विरोध में अप्रैल से टूल डाउन हड़ताल की चेतावनी देकर 5 अप्रैल से हड़ताल शुरु कर दिया। जिसके बाद शाम को ही एनएमडीसी प्रबंधन और यूनियन पदाधिकारियों की बैठक हुई जिसमें प्रबंधन ने अपने मेडी क्लेम इंश्योरेंस स्किम को लागू करने संबंधी आदेश को लिखित रूप से आगामी बैठक तक रद्द करते हुए, श्रमिकों से अपनी सीधी कार्यवाही को स्थगित करने की अपील की गई।

गलत फैसले के खिलाफ खड़े रहेंगे
मेटल माइंस वर्कर्स यूनियन (इंटक) बचेली के सचिव आशीष यादव ने कहा कि प्रबंधन के द्वारा एनएमडीसी के समस्त श्रमिकों को मेडिकल इंश्योरेंस कंपनियों का गुलाम बना देने की साजिश की जा रही थी। मजदूरों की इस पर यह बड़ी जीत है। भविष्य में किसी भी मजदूर विरोधी फैसलों के ख़िलाफ़ वे हमेशा खड़े रहेंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

    और पढ़ें