पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना का कहर:कसडोल, बिलाईगढ़ के कोेविड सेंटर फिर खोले जाएंगे

बलौदाबाजार8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 73 बिस्तर वाले जिला कोविड अस्पताल में 231 मरीज भर्ती है जिसमें 93 ऑक्सीजन सपोर्ट पर

कोविड अस्पतालों में बेड कोरोना मरीजों से फुल हो चुके हैं। बेड व वेंटिलेटर के लिए मरीज भटक रहे हैं। 73 बिस्तर वाले जिला कोविड अस्पताल में 231 मरीज भर्ती है जिसमें 93 ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं। सकरी के 170 बिस्तरों वाले कोविड सेंटर में 170 मरीज हैं, वहीं सिमगा के 66 बिस्तर वाले कोविड अस्पताल में 90 मरीजों को रखा गया है।

हालात यह हैं कि अगर नया मरीज आता है तो उसके लिए बिस्तर ही नहीं है। सीएमएचओ डाॅ. खेमराज सोनवानी ने बताया कि रविवार या सोमवार से हम 50 बिस्तरों वाले कसडोल और 100 बिस्तरों वाले बिलाईगढ़ के कोविड सेंटरों को फिर से खोलने जा रहे हैं।

वैक्सीन की 39 हजार डोज पहुंची
जिले में टीके का टोटा था, वैक्सीनेशन की तुलना में वैक्सीन की आपूर्ति कम पड़ रही थी इसलिए 130 टीकाकरण केंद्रों को घटाकर 50 कर दिया गया था। बुधवार को 39 हजार वैक्सीन की डोज जिला अस्पताल को मिली हैं जो अगले तीन दिनों के लिए पर्याप्त हैं। जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ. शिवकुमार ने बताया कि 4 हजार डोज का स्टाॅक जिला अस्पताल के कोल्ड चैन में पहले से ही है। जिले में अब तक 1 लाख 41 हजार डोज लगाई जा चुकी हैं।

फजीहत के बाद सुधारी व्यवस्था
गांव की पंचायतों से माल वाहक वाहनों में भरकर टीका लगवाने कोरोना सेंटरों तक पहुंचाएजाने के तौर-तरीके से फैल रहे संक्रमण से जिला प्रशासन की हुई फजीहत के बाद मंगलवार को पंचायतों को भी निर्देश दे दिए गए थे कि वे ग्रामीणों को कोरोना प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए ग्रामीणों को टीकाकरण केंद्रों तक लाएं ताकि संक्रमण न फैले। इसका असर बुधवार को टीकाकरण केंद्रों में दिखा 14 से 15 हजार लोगों को टीके लग रहे थे वहीं बुधवार को 11 हजार लोगों को टीके लगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

    और पढ़ें