पुरानी रंजिश में डबल मर्डर:युवक पर चाकू से किया वार, बचाने आए दोस्त को भी मारा, नाली में फेंके शव; बाप-बेटे समेत 3 गिरफ्तार

पलारी22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार में पुरानी रंजिश में डबल मर्डर हो गया। युवक पर चाकू से वार किया। इस दौरान बीच बचाव करने आए उसके दोस्त को भी मार दिया। इसके बाद दोनों को घायल हालत में ही सड़क किनारे नाले में फेंक दिया। दोनों किसी तरह अस्पताल पहुंचे, लेकिन उनकी मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में पिता-पुत्र समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। मामला सिमगा थाना क्षेत्र में दिवाली की देर रात का है।

पुलिस को गुरुवार देर रात सूचना मिली कि मारपीट में घायल दो युवकों को इलाज के लिए अस्पताल लाया गया है। पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि इमाम बाड़ा, वार्ड 14 निवासी घायल हरीश उर्फ रितिक खरसेन पुत्र भीखू राम खरसेन और प्रीतम उर्फ करण विश्वकर्मा की मौत हो चुकी है। इस मामले में रितिक के छोटे भाई जीवन खरसेन ने मोहल्ले के ही तीन लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कराई।

वारदात में इस्तेमाल किया गया चाकू बरामद कर लिया गया।
वारदात में इस्तेमाल किया गया चाकू बरामद कर लिया गया।

मंदिर के पास बैठे आरोपी पर हरीश ने डंडे से किया था वार
पुलिस ने इसके बाद आरोपी धरम डांडे, उसके पिता भरत डांडे और चाचा अवश्वनी डांडे को हिरासत में ले लिया। पूछताछ में धरम ने पुलिस को बताया कि वह रात करीब 9.30 बजे शिव मंदिर के पास बैठ कर मोबाइल में गाना सुन रहा था। इसी दौरान हरीश हाथ में डंडा लेकर आया और कहा कि पिछले साल मेरे मामा हिरू डांडे को मारे थे। इतना कह कर सिर पर डंडे से वार कर दिया। इस पर धरम दौड़ता हुआ अपने घर पहुंचा और पिता व चाचा को जानकारी दी।

पिता-चाचा भी मारने की बात कहते हुए साथ निकले
इसके बाद धरम ने घर में रखा चाकू लिया। पिता भरत डांडे और चाचा अश्वनी भी रितिक को नहीं छोड़ेंगे कहते हुए साथ में निकले। तीनों दौड़ते हुए धरसा रोड पर पर पहुंचे और हरीश और उसके दोस्त को प्रीतम को रोक लिया। आरोप है कि धरम ने पहले रितिक के पेट, कमर और अन्य हिस्से में चाकू से वार किया। इस दौरान प्रीतम बचाव करने आया तो उसे भरत व अश्वती ने पकड़ लिया और धरम ने चाकू से कई वार कर दिए।

छोटे भाई को आता देख तीनों भाग निकले
चाकू के वार से प्रीतम और रितिक वहीं गिर पड़े। इस पर तीनों आरोपी उन्हें उठा कर छिपाने के लिए सड़क किनारे नाली की ओर फेंक दिया। तभी रितिक का छोटा भाई जीवन आता दिखाई दिया। इस पर आरोपियों ने चाकू छिपाने के लिए पास ही के मकान में रामरतन सोनकर के बाड़ी के घास-फूस में छिपा दिया। इसके बाद वहां से भाग निकले। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर वारदात में प्रयुक्त चाकू और खून से सने कपड़े बरामद कर लिए हैं।

खबरें और भी हैं...