कार्रवाई:नशीली दवा ट्रासकैन प्लस जब्त, 1 गिरफ्तार

बलौदाबाजारएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कोतवाली पुलिस को नशीली दवाओं की एक बड़ी खेप को पकडने में सफलता मिली है। पुलिस ने पीतल कारखाना के पीछे स्थित ज्वाला चतुर्वेदी पिता इंदरमन चतुर्वेदी (31) के घर पर छापा मारकर बड़ी मात्रा में अवैध रूप से विक्रय के लिए मंगाई गई नशीली दवाओं ट्रासकैन प्लस की खेप जब्त की है। दवा पहले पेट दर्द से निजात के काम आती थी पर अब इस पर प्रतिबंध लग चुका है। आरोपी इसे नशे की दवा के रूप में अवैध रूप से बेच रहा था। 
सोमवार को मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने पीतल कारखाना के पीछे ज्वाला चतुर्वेदी के घर पर छापा मारा तो ज्वाला चतुर्वेदी स्वयं घर पर था। मकान की तलाशी लेने पर कूलर के पीछे छिपाकर एक भूरे रंग के कार्टून में रखे 5 डिब्बों में रखे 18 स्ट्रिप प्रतिबंधित मादक कैप्सूल  ट्रासकैन प्लस दवा (कुल 720) मिली। आरोपी ने पूछताछ में नशीली दवाओं के ट्रांसपोर्ट में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली। आरोपी ज्वाला चतुर्वेदी के खिलाफ धारा मामला पंजीबद्ध कर उसे जेल भेज दिया गया। पुलिस का कहना है कि आरोपी कहां से दवाएं लाता था और कहां खपाता था इस संबंध में कुछ जानकारियां मिली हैं मगर तहकीकात के बाद और भी तथ्य भी सामने आ सकते हैं। 
इसी आरोप में पूर्व में भी जेल जा चुका है आरोपी
आरोपी ज्वाला चतुर्वेदी पूर्व में भी नशीली दवाओं का व्यापार करने के आरोप में जेल जा चुका है, उस समय वह नशीला दवाओं की सप्लाई बालाघाट (मप्र) से करता था। स्थानीय मेडिकल संचालकों की मानें तो अभी यह प्रतिबंधित दवा नागपुर से कोरबा आ रही है । दवा पेट दर्द के काम में उपयोग लाई जाती थी मगर नशे के आदि किशोर व युवा इसे ड्रग्स के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...