पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बाजार में त्योहारी रौनक लौटी:गहने, कपड़े की खरीदी शुरू: शादियों के लिए भी बुक होने लगे भवन, गाॅर्डन, डीजे

बलौदाबाजारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दीपावली के साथ लोगों ने मुहूर्त करीब होने से शादियों की खरीदारी भी अभी से शुरू कर दी

मार्च में लगे लॉकडाउन के बाद अप्रैल, मई के शादियों वाले सीजन में गिनती की ही शादियां हो पाई थीं। कई लोगों ने तय तारीखों के बावजूद शादियों को दिवाली के बाद के लिए टाल दिया था। अब उन्होंने तैयारियां शुरू कर दी हैं जिसकी वजह से बाजार में शादी-विवाह के लिए खरीदारी होने लगी है। लाॅकडाउन के बाद बाजार खुला है तो लोग दिवाली की खरीदारी के साथ शादियों के लिए भी गहने, कपड़े और फर्नीचर सहित अन्य सामान की खरीदारी कर रहे हैं। कोई आभूषण की बुकिंग करा रहा है, तो कोई उपहार में देने के लिए जेवरात और अन्य गिफ्ट आइटम खरीद रहे हैं। शहर के मैरिज हाउस और गॉर्डन बुक होने लगे हैं। शादियों के लिए ऑर्डर आने लगे हैं। शहर के बाजार में बर्तनों की दुकानों में भी अच्छी खासी रौनक है, जिसमें लोग स्टील और पीतल के बर्तनों की मांग ज्यादा कर रहे हैं। लोग शगुन के बतौर पीतल के बर्तन अधिक खरीद रहे हैं। साड़ियों गहनों की मांग भी बढ़ गई है। वर पक्ष और वधु पक्ष के लोग गहने के लिए सर्राफा व्यापारियों को ऑर्डर कर रहे हैं।

टेंट हाउस : बुकिंग शुरू होते ही उम्मीद जागी
टेंट हाउस के संचालक अशोक सोनी ने बताया कि जिले में 300 टेंट हाउस संचालक हैं। हर साल 10 हजार शादियों के आर्डर बुक होते हैं और 2 करोड़ का कारोबार होता है मगर मार्च के बाद एक भी आॅर्डर नहीं मिला। बुकिंग इस बार ज्यादा आ रही है मगर 100 से ज्यादा मेहमानों की अनुमति नहीं होने के कारण महंगे पंडाल और डेकोरेशन के ऑर्डर नहीं मिल रहे हैं।

ज्वेलरी : इस सप्ताह 15% बढ़ा व्यवसाय
ज्वेलर्स व्यवसायी विशाल केड़िया के अनुसार शादियों के ऑर्डर मिलने लगे हैं। इस सप्ताह पिछले सप्ताह की तुलना में व्यवसाय 10 से 15 प्रतिशत बढ़ा है, उम्मीद है इस बार की शादियों का सीजन पिछली शादियों के सीजन में लाॅकडाउन की वजह से हुए नुकसान की भरपाई करेगा।

भवन : इस साल अन्य सालों से ज्यादा बुकिंग
शहर में शादियों के लिए सबसे ज्यादा बुकिंग विप्र वाटिका की होती है। वाटिका का संचालन कर रहे अरविंद शुक्ला का कहना है कि पिछले साल शादियों के सीजन में लाॅकडाउन की वजह से कई लोगों ने शादियों को दीपावली के बाद तक टाल दिया था इसलिए इस बार शादियों का सीजन दीपावली के बाद से ही शुरू हो जाएगा। बुकिंग अन्य सालों की अपेक्षा इस साल ज्यादा आ रही है।

डीजे : तारीख टकराने से बुकिंग कम ले रहे
डीजे संचालक सोनू-मोनू ने बताया कि दिसंबर तक मुहूर्त कम है मगर शादियां ज्यादा होने के कारण बुकिंग ज्यादा मिल रही हैं, तारीखें टकराने के कारण हम सबकी बुकिंग नहीं ले पा रहे है‌ं। शादियों का पिछला सीजन बिना व्यवसाय किए समाप्त हो गया, इस साल अन्य सालों की अपेक्षा डेढ़ गुना ज्यादा व्यवसाय होगा, इसकी उम्मीद है।

कपड़ा व्यवसाय: इस साल से ज्यादा उम्मीद
कपड़ा व्यवसायी कमलेश हबलानी का कहना है कि स्टाक पिछले साल का भी बचा है फिर भी इस साल से उम्मीदें कुछ ज्यादा हैं। इस साल भी माल मंगाया है, लोग तामझाम नहीं करेंगे लेकिन शादी-ब्याह में कपड़े लेने-देने की परंपरा तो निभाएंगे ही, इसलिए उम्मीद है लोग खरीदारी अच्छी करेंगे।

11 दिसंबर के बाद 4 महीने तक विवाह के लिए शुभ मुहूर्त नहीं
ग्रहों के अस्त होने व खरमास होने के कारण शादी का सपना देख रहे युवाओं को इस साल खरमास के कारण शादी के लिए सिर्फ 7 शुभ मुहूर्त ही मिलेंगे। 11 दिसंबर के अंतिम शुभ मुहूर्त के बाद रोक लग जाएगी। यह रोक 22 अप्रैल 2021 को हटेगी, तब तक लोगों को इंतजार करना होगा। शहर के पंडित धनेश्वर प्रसाद शास्त्री बताते हैं कि शादी, सगाई और अन्य मांगलिक कार्यों के लिए शुभ महीना, तिथि, वार, नक्षत्र और शुभ दिन का विचार किया जाता है। वर, वधु व मांगलिक कार्य कर रहे व्यक्ति की राशि के हिसाब से शुभ मुहूर्त निकलता है। इस साल के ढाई माह में विवाह व शुभ कार्यों के लिए सिर्फ 9 दिन ही शुभ मुहूर्त रहेंगे। 25 नवंबर को देवउठनी ग्यारस के साथ शादी व शुभ कार्यों की शुरुआत होगी। शादियों के लिए 11 दिसंबर को इस साल का अंतिम शुभ मुहूर्त होगा। गुरु ग्रह अस्त होने पर भी शुभ विवाह नहीं होता है। 16 फरवरी से 17 अप्रैल तक शुक्र ग्रह अस्त रहेगा। इससे 11 दिसंबर के बाद अगले 4 महीने तक विवाह के लिए शुभ मुहूर्त नहीं रहेंगे। 22 अप्रैल 2021 को साल का पहला शुभ मुहूर्त होगा, तभी शादियां व शुभ कार्यों का शुभारंभ होगा।

नवंबर में 2 और दिसंबर में शादी के 5 मुहूर्त
मान्यता के अनुसार देव शयनी ग्यारस के बाद कोई भी शुभ कार्य नहीं होता है और देवउठनी ग्यारस के बाद शुभ कार्य शुरू हो जाते हैं। 25 नवंबर को देवउठनी एकादशी के दिन विवाह का मुहूर्त है। इसके बाद 30 नवंबर को मुहूर्त रहेगा। दिसंबर माह में 1, 7, 8, 9 और 11 तारीख को विवाह के मुहूर्त रहेंगे।

22 अप्रैल 2021 को पड़ेगा पहला मुहूर्त
पंडित शास्त्री के अनुसार 15 दिसंबर को सूर्य के धनु राशि में आ जाने से खरमास शुरू हो जाएगा जो 14 जनवरी 2021 तक रहेगा। खर मास में विवाह आदि शुभ मुहूर्त नहीं होते हैं। इसके बाद 19 जनवरी को गुरु तारा अस्त हो जाएगा और 16 फरवरी तक अस्त ही रहेग।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपका कोई भी काम प्लानिंग से करना तथा सकारात्मक सोच आपको नई दिशा प्रदान करेंगे। आध्यात्मिक कार्यों के प्रति भी आपका रुझान रहेगा। युवा वर्ग अपने भविष्य को लेकर गंभीर रहेंगे। दूसरों की अपेक्षा अ...

और पढ़ें