पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अच्छी पहल:अस्पताल जाने वाली एंबुलेंस को रोककर देता है खाने के पैकेट

बलौदाबाजार13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

हर किसी के लिए सेवा का मतलब अलग-अलग होता है। कुछ लोगों में सेवा का उद्देश्य नाम व शोहरत पाना होता है तो कुछ लोग इसे ईश्वर की अराधना समझकर खामोशी से करते हैं और किसी को इसकी खबर भी होने नहीं देती। सेवा का ऐसा निश्चल भाव रखनेे वाले शहर के 55 वर्षीय इस व्यक्ति को शहर के लोग भले ही पंकज यदु के नाम से जानते हैं मगर यह कोई नहीं जानता कि वह पिछले कई दिनों से जिला अस्पताल की ओर जाने वाली हर एंबुलेंस को रोककर वह उनमें बैठे लोगों को कहता है ये भोजन के पैकेट है खा लेना।

शनिवार को भाटापारा मार्ग पर रात 10 बजे एक युवक मरीज ले जा रहे एंबुलेंस को रोककर भोजन के पैकेट दे रहा था। वहीं खड़े भास्कर के प्रतिनिधि ने जब उस व्यक्ति से पूछा कि क्या कर रहे हो तो पहले तो उसने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया। फिर वही रहने वाले व्यक्ति ने बताया कि यह व्यक्ति रोज की तरह यहां खड़े होकर मरीजों को लेकर अस्पताल की ओर जाने वाले एंबुलेंस व वाहनों को रोककर भोजन के पैकेट देता है।

खबरें और भी हैं...