पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नौकरी के नाम पर 20 करोड़ की ठगी:घूस न लेने-देने की मातहतों को शपथ दिलवा रहे कलेक्टर, इधर पुलिस आरोपियों से प्रार्थियों का समझौता करवाने में जुटी है

बलौदाबाजारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक तरफ जिले में सतर्कता जागरूकता सप्ताह का आयोजन मंगलवार से शुरू किया गया, जिसमें अधिकारियों-कर्मचारियों को कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने शपथ दिलाई कि न तो वे रिश्वत लेंगे और न ही देंगे तो दूसरी तरफ 20 करोड़ की ठगी की आरोपी मेवा चोपड़ा के सताए लोगों को पुलिस सलाह भी देती रही कि वे प्रार्थी आरोपी से समझौता कर लें। एक ही दिन में पुलिस-प्रशासन का ये चेहरा पोल खोलने के लिए काफी है कि दावों और हकीकत में कितना फर्क होता है। लोग सवाल कर रहे हैं कि क्या पुलिस-प्रशासन का चेहरा भी राजनीतिक हो गया है? सवाल लाजमी है कि क्या शपथ की कथनी और कृत्यों की करनी के बीच कोई सहसंबंध दिखाई देता है? जिले में ठगी के सबसे बड़े स्कैंडल में लगभग 200 लोगों को सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर 20 करोड़ रुपए ठगने वाले आरोपियों की पतासाजी के संबंध में पुलिस तीन माह से उन्हें सिर्फ फरार बताकर ही काम चला रही है। 28 जुलाई को राजनीतिक दलों के हस्तक्षेप से बने दबाव के बाद 12 प्रार्थियों की दर्ज शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ 4 एफआईआर दर्ज हुई थी जिसके बाद इन तीन माह में ठगी के शिकार 50 पीड़ितों ने मुख्य आरोपी मेवा चोपड़ा और अशोक पांडेय के खिलाफ रिपोर्ट लिखाने पहुंच चुके हैं मगर उनके शिकायत पत्रों को पुरानी एफआईआर में ही संलग्न कर वापस भेजा जा रहा है। मामले की फाइल कांग्रेस की जिलाध्यक्ष हितेंद्र ठाकुर गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू तक पहंुचा चुके हैं।

पहला चेहरा -
बलौदाबाजार।
जिले में सतर्कता जागरूकता सप्ताह का आयोजन 27 अक्टूबर से शुरू किया गया है जो 2 नवंबर तक चलेगा। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने पहले दिन मंगलवार को जिला कार्यालय के सभाकक्ष में भ्रष्टाचार मुक्त समाज निर्माण में अपना योगदान देने के लिए अधिकारियों-कर्मचारियों को शपथ दिलाई। कलेक्टर ने कहा कि भ्रष्टाचार देश की आर्थिक, सामाजिक एवं राजनीतिक प्रगति में बड़ी बाधा है इसका उन्मूलन करने के लिए सभी संबंधित पक्षों जैसे सरकार, नागरिकों एवं निजी क्षेत्रों को मिलकर एक साथ काम करने की आवश्यकता है। अधिकारी-कर्मचारियों ने शपथ ली है कि वे न तो रिश्वत लेंगे और न ही किसी को रिश्वत देंगे। पारदर्शिता, जिम्मेदारी तथा निष्पक्षता पर आधारित सुशासन की प्रतिज्ञा भी उन्होंने इस मौके पर ली है।

दूसरा चेहरा- 20 फीसदी काटकर शेष रकम लौटाने की मध्यस्थता, आज चर्चा के लिए बुलाया
14 अक्टूबर को शहर के गार्डन चौक में ठगी के शिकार 40 लोगों ने धरना-प्रदर्शन करने के बाद पुलिस को ज्ञापन सौंपा था। इन्हीं में से कुछ प्रार्थियों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि (प्रार्थियों से हुई बातचीत की रिकार्डिंग भास्कर के पास उपलब्ध है) पुलिस ने हमें आरोपियों के वकील से हुई बातचीत का हवाला देकर बताया कि आरोपी 20 प्रतिशत रकम काटकर बाकी रकम लौटाने को तैयार है। हमने आरोपियों का यह आफर स्वीकार नहीं किया है। इसी संबंध में आगे की चर्चा के लिए बुधवार को हमें बुलाया गया है। आरोपियों और प्रार्थियों के बीच मध्यस्थता के आरोपों में अगर सच्चाई है तो समझा जा सकता है कि अपराधी पुलिस की पकड़ से अभी तक बाहर क्यों है?

हमारा काम आरोपियों को पकड़ना है: टीआई
आरोपियों और प्रार्थियों के मध्यस्थता की भूमिका निभाने के लगे आरोपों पर थाना प्रभारी विजय चौधरी ने कहा कि हमारा काम अपराधियों को पकड़ना है न कि उनके बीच मध्यस्थता कराना। हम अभी भी आरोपियों को पकड़ने अपनी ओर से सारी कोशिशें कर रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें