पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

समस्या:भंवरपुर उमारिया-सरायपाली सड़क पर 2 साल में 5 लोगों की मौत, भारी वाहनों का रहता है दबाव

बसना ग्रामीण2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पिरदा-भंवरपुर-उड़ेला-सरायपाली और बसना क्षेत्र के लगभग 100 गांवों के लोग करते हैं सड़क का इस्तेमाल

भंवरपुर उमारिया-सरायपाली 14 किमी सड़क हादसों की सड़क बन चुकी है। पिछले दो साल में इस सड़क पर पांच लोगों की दर्दनाक मौत हादसे में हो चुकी है। वहीं कई लोग अपना हाथ-पैर तोड़वा चुके हैं। बसना से सरायपाली जाने के दौरान टोल टैक्स से बचने के लिए छोटे-बड़ी गाड़ियां सभी इसी सड़क का इस्तेमाल करते हैं, नतीजा सड़क हादसा और मौत।
2 ब्लॉक के आवाजाही वाले व्यस्ततम मार्ग बसना ब्लॉक के भंवरपुर उमारिया-सरायपाली ब्लॉक के कनकेबा होते हुए लगभग 14 किलोमीटर मार्ग में सरायपाली जाने का यह एक प्रमुख रास्ता है। इस सड़क का इस्तेमाल पिरदा-भंवरपुर-उड़ेला-सरायपाली और बसना क्षेत्र के लगभग 100 गांवों के ग्रामीण करते हैं। सड़क का इस्तेमाल कई बड़े वाहन बसना से सरायपाली के मध्य छुइपाली टोल नाका से टैक्स को बचाने के चक्कर में करते हैं। सड़क संकरी और तीखी मोड़ वाली होने के कारण आए दिन मार्ग में इन भारी वाहनों के वजह से हादसे होते रहते हैं। बसना बिहारी ढाबा से भंवरपुर से उमारिया कनकेबा होते हुए लगभग 30 किलोमीटर तय कर टोल टैक्स बचाने में लगे रहते है। इससे न केवल टोल टैक्स में सरकार का नुकसान होता है बल्कि एकांकी मार्गों में भारी वाहनों के आने जाने से दुर्घटना और मार्ग जल्द ही खराब हो जाते हैं। केनकेरा के पूर्व सरपंच बसंत पटेल ने बताया कि भंवरपुर से सरायपाली मार्ग में कम चौड़ीकरण और आजु बाजू मुरमिकरण नही होने के कारण आए दिन दुर्घटनाए होती रहती है मार्ग में कई लोगों की जान भी जा चुकी है।
ये जगह सबसे ज्यादा खतरनाक: बताया गया कि उमारिया और कनकेबा के मध्य एक नाला के पास भी मोड़ान है। यहां पिछले दो सालों में कई घटनाएं हो चुकी है। पिछले साल स्कार्पियो में सवार तीन लोगों की जान कम चौड़ाई और घुमावदार मार्ग होने के कारण हो गई थी। चालक ने तीखा मोड़ पर कार को सीधे पुलिया से टकरा दिया था। हादसे में 3 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं नाले के पास गड्ढों से बचने के चक्कर और कम चौड़ाई के वजह से भी 2 वाहन आपस मे टकरा जाने से 1 की मौत हो गई थी।

संकरी हैं यह सड़क, जगह-जगह गड्‌ढे
भंवरपुर से उमारिया कनकेबा सरायपाली होते हुए डामरीकरण मार्ग है। वहीं इस मार्ग की चौड़ाई बहुत ही कम है। सड़क पर जगह-जगह गड्डे है। सड़क के दोनों किनारों पर सालों से मुरमीकरण भी नहीं किया गया है। इसके कारण डामरीकरण मार्ग में सोल्डर बन चुके हैं। इन साइड सोल्डरों के कारण भी दुर्घटनाएं हो रही है। भंवरपुर कनकेबा मार्ग में साइड सोल्डरों के वजह से एक मालावाहक जो कर्रा भौना का बताया गया था एवं दूसरा सरायपाली बताया गया मार्ग में साइड सोल्डर होने के कारण दुर्घटनाग्रस्त हो गई। गुरुवा को भी बाइक और माल वाहक में टक्कर हो गई, जिसमें बाइको सवारों को काफी चोटें आईं है। सड़क संकरी होने के कारण छोटे वाहनों को डामरीकरण मार्ग से नीचे उतारना एवं नीचे से ऊपर चढ़ाने के समय साइड सोल्डरों के कारण फिसल कर गिर पडते हैं।

प्रस्ताव भेजा गया, मंजूरी मिलते ही सड़क का होगा निर्माण
मामले में लोक निर्माण विभाग सरायपाली के एसडीओ पैकरा ने कहा कि योजना के तहत अभी डीबीआरडी में इस्टीमेट के तहत भंवरपुर से सरायपाली और भंवरपुर से उड़ेला होते हुए बड़ेसाजापाली तक भी डबल लाईन मार्ग के लिए इस्टीमेट भेजा गया है। डीबीआरडी के तहत 2 पार्ट में भंवरपुर से सरायपाली तक और भंवरपुर से उड़ेला होते हुए बड़े साजापाली तक डबल लाइन चौड़ीकरण के लिए इस्टीमेट भेज दिया गया है। पहले भंवरपुर से उड़ेला होते हुए साजापाली मार्ग को पहले प्राथिमिकता दिया गया है। दूसरे पार्ट में सरायपाली से भंवरपुर 14 किलोमीटर तक डबल लाइन के लिए प्रस्ताव भेजा गया है। बजट मिलते ही भंवरपुर से उमारिया कनकेबा होते हुए सरायपाली पहुंच मार्ग का भी चौड़ीकरण किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें