कार्रवाई:पुल बनने से तुरंत मौके पर पहुंची फोर्स, पांच लाख के इनामी नक्सली को मारा

दंतेवाड़ा24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

इंद्रावती नदी पर पुल बनने के बाद अब इस इलाके में नक्सलियों के पैर उखाड़ने का काम शुरू हो गया है। शुक्रवार को जैसे ही दंतेवाड़ा पुलिस को गुमियापाल, वेंगुपर के पास बड़ी संख्या में नक्सलियों के मौजूदगी की सूचना मिली तो डीआरजी की टीम को तुरंत रवाना किया गया। यहां पहुंचते ही जवानों व नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हो गई। जिसमें जवानों ने इंद्रावती एरिया कमेटी के सक्रिय एक खूंखार माओवादी को ढेर किया है।

मारे गए नक्सली की पहचान रामसू के रूप में हुई है। रामसू खूंखार नक्सली कमांडर मल्लेश का गार्ड था। इस पर 5 लाख रुपए का इनाम भी घोषित है। घटनास्थल से पिस्टल, मैगजीन सहित भारी मात्रा में सामान बरामद किए गए हैं।

एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि सूचना मिली थी कि इंद्रावती नदी के पार धुर नक्सल प्रभावित इलाके कौरगांव में भारी संख्या में नक्सलियों की मौजूदगी है। इस इलाके में हार्डकोर इनामी नक्सली मल्लेश, सगनू व रामसू बैठक ले रहे थे। इसी सूचना के आधार पर जवानों को मौके के लिए रवाना किया गया था। मुठभेड़ में एक नक्सली मारा गया है।बाकी भाग गए ।

ग्रामीण बोले- सरपंच की हत्या में शामिल था
इस मुठभेड़ के बाद नदी पार के गांवों में सन्नाटा तो पसरा रहा लेकिन यहां के ग्रामीण बेहद खुश हैं। ग्रामीणों ने बताया कि नक्सली मल्लेश का गार्ड रामसू खूंखार रहा है। साल 2018 को पाहुरनार के सरपंच पोसेराम की हत्या में शामिल रहा है। इस इलाके के ग्रामीणों को समय- समय पर काफी परेशान भी किया है।

ये सामान हुए बरामद
घटना स्थल से एक नग पिस्टल, एक जिंदा राउंड मैगजीन में लगा हुआ, एक नग खाली खोखा, वॉकीटॉकी, पिट्ठू, टिफिन बम, नक्सली साहित्य बरामद हुए हैं।

खबरें और भी हैं...