हालात अच्छे नहीं / 11 जिलों में कोरोना के लिए महज 1026 बेड, आईसीयू 10% भी नहीं, मरीज बढ़े तो मुश्किल

Just 1026 beds for Corona in 11 districts, ICU not even 10%, difficult if patients increase
X
Just 1026 beds for Corona in 11 districts, ICU not even 10%, difficult if patients increase

दैनिक भास्कर

May 29, 2020, 05:00 AM IST

बस्तर. जिस रफ्तार से प्रदेश में कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं, वह चिंताजनक है, लेकिन इससे ज्यादा चिंताजनक है कोविड 19 के मरीजों के लिए इलाज का इंतजाम करना। अभी हालात ये हैं कि प्रदेश के 11 जिलों में कोविड 19 के मरीजों के लिए महज 1026 बेड हैं। इतना ही नहीं आईसीयू और वेंटिलेटर की संख्या जरूरत से बहुत कम है। इनमें कोरबा, अंबिकापुर, जगदलपुर जैसे बड़े शहर भी शामिल हैं। लॉकडाउन के पहले दो महीने तक कोरोना मरीजों के मामले में खुशकिस्मत रहे छत्तीसगढ़ में अब एेसा नहीं है। दूसरे प्रदेशों से श्रमिकों, छात्रों सहित सभी लोगों को आने की छूट के बाद हालात दिन ब दिन बिगड़ रहे हैं। पिछले चार दिनों में ही 140 संक्रमित मिल गए हैं। एेसा माना जा रहा है, कि जून तक 10 लाख लोग दूसरे प्रदेशों, विदेश से यहां पहुंच चुके होंगे। जैसे-जैसे बाहर से यहां आने वालों की संख्या बढ़ रही है, वैसे-वैसे मरीजों की संख्या भी, अत: विशेषज्ञ मान रहे हैं कि जून में कोरोना मरीजों की संख्या चरम पर होगी। एेसे में मरीजों को अस्पताल में भर्ती कर उनका इलाज बेहद कठिन होगा, क्योंकि प्रदेश के अधिकांश जिलों में कोविड 19 के मरीजों के लिए हॉस्पिटल में 50 से 100 बेड ही हैं।


स्वास्थ्य विभाग ने पिछले दो महीने में चिकित्सा सुविधाएं जुटाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। आईसीयू, वेंटिलेटर जैसे इन्फ्रास्ट्रक्चर के साथ पर्याप्त विशेषज्ञ डॉक्टर, डॉक्टर का बंदोबस्त भी बड़ा काम है। जिस तेजी से कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है, उसे देखते हुए यह सरकार के सामने बड़ी चुनौती है।
कोशिश- कोविड हॉस्पिटल का अपना स्टाफ हो
"प्रदेश के हर कोविड 19 अस्पताल में डेडिकेटेड स्टाफ रखने के प्रयास हो रहे हैं। कल ही 361 से अधिक नए डाॅक्टरों की नियुक्ति पर अंतिम मुहर लगाई गई है। हमने दो माह में ही रायपुर-बिलासपुर जैसे बड़े जिलों में नए अस्पताल बनाने के साथ छोटे जिलों में भी निर्माण कराया। हम तेजी से हर जिले में 100 बेड का आइसोलेटेड अस्पताल भी तैयार करवा रहे हैं। जरूरत पड़ने पर निजी अस्पतालों में भी मरीज रखे जाएंगे।"      
-टीएस सिंहदेव, स्वास्थ्य मंत्री

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना