ग्रामीणों ने नहाड़ी कैंप का किया विरोध:बोले-हमें अस्पताल, स्कूल, बिजली चाहिए

दंतेवाड़ा24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ज़िले के धुर नक्सलगढ़ गांव नहाड़ी में पुलिस कैम्प खुलना है। इसके पहले एक बार फिर ग्रामीण लामबंद हो गए हैं। यहां नहाड़ी, नीलावाया,मुलेर सहित अजय गांवों के ग्रामीण इकट्ठा हुए व कैम्प खुलने का विरोध किया। इसकी फोटो, वीडियो भी ग्रामीणों ने मीडिया से साझा की है। दावा किया है कि विरोध अब भी हो रहा है।

हालांकि पुलिस इसे ग्रामीणों पर नक्सलियों का दबाव बताते हुए पुराना वीडियो, फोटो बता रही है। ग्रामीणों ने कहा कि हमें गांव में कैंप नहीं बल्कि स्कूल, अस्पताल, बिजली, पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं चाहिए। पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को रोजगार भी नहीं दिया जा रहा है।

कैम्प के विरोधी नहीं हैं ग्रामीण, विरोध की कोई सूचना नहीं: एसपी
एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने कहा कि नहाड़ी में कैम्प खोलने के विरोधी ग्रामीण नहीं हैं। कैम्प के लिए ग्रामीणों का समर्थन मिल रहा है। यहां विरोध की कोई सूचना नहीं मिली। कुछ फोटो, वीडियो ज़रूर मिले हैं, जो पुराने हो सकते हैं। यदि अभी ऐसा कोई विरोध हो रहा तो नक्सलियों का दबाव है। ग्रामीणों की तरफ से किसी तरह की मांग नहीं आई है। इस इलाके के कई युवा पुलिस में भर्ती होने आगे आए हैं। यहां ग्रामीणों के समर्थन से कैम्प खुलेगा, नक्सलियों के मलांगिर एरिया कमेटी की कमर टूटेगी व इलाके का विकास होगा।

खबरें और भी हैं...