भाईदूज पर्व:भाई बहनों में दिनभर रहा पर्व का उत्साह

गीदम25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नगर व आसपास के ग्रामीण अंचलों में कार्तिक शुक्ल द्वितीया तिथि, शनिवार को भाई-बहन का पवित्र पर्व भाईदूज हर्षोल्लास से मनाया गया। इस दौरान बहनों ने अपने भाइयों को तिलक लगाकर उनका मुंह मीठा कराया और उनकी लंबी उम्र की कामना की। फिर भाई - बहनों ने एक साथ भोजन ग्रहण किया।

ऐसी मान्यता है कि इस दिन बहनों के घर भोजन करने से भाइयों को अकाल मृत्यु का भय नहीं रहता है। प्राचीनकाल में इस दिन यमराज अपनी बहन यमुना के घर गये थे और वहां भोजन करने के बाद यह वरदान दिया था कि इस दिन जो भाई अपनी बहन के घर भोजन करेगा मृतय्ुभय नहीं रहेगा।

खबरें और भी हैं...