पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वैक्सीनेशन को लेकर फैली अफवाह:डोंगरकट्‌टा में वैक्सीनेशन टीम को घुसने नहीं दिया, बैरंग लौटी; आज मेडिकल टीम बुखार से पीड़ितों का करेगी स्वास्थ्य परीक्षण

भानुप्रतापपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वैक्सीनेशन टीम को गांव में घुसने से रोकने डोंगरकट्‌टा तथा उच्चपानी के ग्रामीण सड़क पर उतर गए। - Dainik Bhaskar
वैक्सीनेशन टीम को गांव में घुसने से रोकने डोंगरकट्‌टा तथा उच्चपानी के ग्रामीण सड़क पर उतर गए।
  • ग्रामीणों में डर- अफसरों-नेताओं को अलग टीका लग रहा तो ग्रामीणों को दूसरा, तभी बीमार हो रहे
  • पंचायत सचिव बोले- जागरूक करने पर मारने की धमकी दे रहे, कुल्हाड़ी लेकर दौड़ा चुके हैं

कोरोना संक्रमण को रोकने युद्धस्तर पर वैक्सीनेशन अभियान चलाया जा रहा है। जिले के कुछ गांव में जबरदस्त अफवाह फैल गई है कि वैक्सीन लगवाने से लोग बीमार हो रहे हैं। मौत तक हो रही है। ऐसी ही अफवाह के चलते ग्राम डोंगरकट्‌टा में वैक्सीनेशन के लिए पहुंची टीम को गांव में घुसने नहीं दिया गया। अफसरों ने भी पहुंच ग्रामीणों को समझाया लेकिन वे किसी की सुनने तैयार नहीं थे।

वैक्सीनेशन टीम डोंगरकट्‌टा से बैरंग लौटी। प्रशासनिक अफसरों का कहना है गांव में मंगलवार को मेडिकल टीम भेज जितने भी लोग बुखार से पीड़ित हैं उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाएगा। ग्रामीणों में व्याप्त अफवाहों का भी समाधान कराया जाएगा। वैक्सीनेशन की गति बढ़ाने स्वास्थ्य विभाग द्वारा गांव गांव में शिविर लगा वैक्सीन लगाए जा रहे हैं। इसी अभियान के तहत टीम भानुप्रतापपुर से 20 किमी दूर डोंगरकट्‌टा पंचायत के आश्रित ग्राम उच्चपानी पहुंची थी। गांव की सरहद पर बड़ी संख्या में ग्रामीण जमा हो गए और वैक्सीनेशन टीम को गांव के अंदर घुसने ही नहीं दिया।

ग्रामीणों का आरोप- अलग अलग होती है वैक्सीन
उच्चपानी के ग्रामीणों पर अफवाह का इतना ज्यादा असर है कि उन्होंने यहां तक कह दिया सरकारी अधिकारी कर्मचारियों और जनप्रतिनिधियों को लगने वाला वैक्सीन अलग होता है। गांव के लोगों को लगने वाला वैक्सीन अलग होता है। यही कारण है वैक्सीन लगने के बाद गांव के लोग बीमार हो रहे हैं। यह भी आरोप लगाया कि जब भी गांव के लोग कोरोना जांच कराते हैं तो रिपोर्ट पॉजिटिव आती है जबकि उनमें कोई लक्षण नहीं होते।

सचिव बोले-जागरूक करने पर ग्रामीण धमका रहे
डोंगरकट्‌टा के पंचायत सचिव सत्यदेव टांडिया ने कहा वैक्सीनेशन का इस गांव में भारी विरोध हो रहा है। गांव के लोगों को जागरूक करने प्रयास करते हैं तो उल्टे गांव के लोग उन्हें मारने धमकी दे रहे हैं। इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को दी है।

दाबकट्टा में स्वास्थ्य विभाग की टीम पर हो चुका हमला
भानुप्रतापपुर के दाबकट्टा में ही पिछले दिनों स्वास्थ्य विभाग की टीम युवती की कोरोना जांच करने उसके घर पहुंची थी तो टीम पर कुल्हाड़ी से हमला किया था। टीम वहां से भागी थी। मामले की शिकायत पुलिस थाना में की गई थी।

मेडिकल टीम भेज ग्रामीणों का करेंगे स्वास्थ्य परीक्षण
प्रभारी एसडीएम उत्तम सिंह पंचारी ने कहा डोंगरकट्‌टा में वैक्सीनेशन टीम को घुसने नहीं दिया गया। ग्रामीणों के मन से गलत भ्रांतियों को दूर किया जाएगा। मंगलवार को गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजी जाएगी जो गांव के लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण करेगी।

सभी वैक्सीन एक समान नहीं होते अलग-अलग
बीएमओ डाॅ. अखिलेश ध्रुव ने कहा सभी को एक प्रकार के ही वैक्सीन लग रहे हैं। अलग-अलग वैक्सीन नहीं लगते। वैक्सीन लगने के बाद एक से दो दिन बुखार आता है। इससे ज्यादा दिन तक बुखार होने पर अस्पताल पहुंच जांच कराएं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

    और पढ़ें